UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता

0
1245
UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता
  • अलग-अलग जिलों में 12 लोग हुए घायल, एक ही परिवार के सात लोग मलबे में दबे

देहरादून, ब्यूरो। UTTARAKHAND में शुक्रवार से हो रही भारी बारिश (Heavy Rain) के बाद जगह-जगह तबाही मची हुई है। कई जगह भूस्खलन और भवन गिरने से लोग मौके पर ही अपनी जान गंवा चुके हैं। आपदा जैसे इन हालातों में अभी तक 15 लोग लापता बताए जा रहे हैं। दूसरी ओर अलग-अलग जिलों में 12 लोग घायल हुए हैं। UTTARAKHAND के टिहरी जिले के धनोल्टी तहसील में भारी बारिश (Heavy Rain) से एक ही परिवार के 7 लोग मलबे में दबे होने की सूचना है। इनमें से 2 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं।

UTTARAKHAND में भारी बारिश (Heavy Rain) के बाद टिहरी और पौड़ी गढ़वाल में जनपद में दो बुजुर्ग महिलाएं आज सुबह ही मलबे में दबने से जिंदा दफन हो गई थीं। मौके पर राहत और बचाव कार्य जारी है। वहीं UTTARAKHAND में जगह-जगह लोग फंसे होने के साथ ही लापता बताए जा रहे हैं।

UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता

UTTARAKHAND CM धामी समेत ये अफसर उतरे मैदान में  

दरअसल, UTTARAKHAND में कल से हो रही मूसलाधार बारिश (Heavy Rain) के बाद विभिन्न जिलों में तबाही का मंजर है। कहीं मलबा आने से मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं तो कही उफनती नदी नालों में लोग फंस गए हैं। रातभर एसडीआरएफ टीम यद्धस्तर पर राहत बचाव कार्य कर रही है। UTTARAKHAND के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी सड़क पर उतरकर हालातों का जायजा ले रहे हैं।

मूसलाधार बारिश (Heavy Rain) के बाद सभी प्रभावित जिलों के DM से लेकर सभी SDM और आपदा प्रबंधन और UTTARAKHAND SDRF की टीमें लोगों की जान बचाने में जुड़े हैं। सेनानायक मणिकांत मिश्रा ने मोर्चा सम्भाला है। वह स्वयं आपदा से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र में मालदेवता में रेस्क्यू आपरेशन की कमान संभाले हैं।

UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता

कार में फंसी गर्भवती महिला समेत पांच लोगों को बचाया

UTTARAKHAND के देहरादून के थानो-रायपुर रोड के बीच में पुल टूटने से एक व्यक्ति के फंसे होने की सूचना पर एसडीआरएफ टीम ने तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया। घटनास्थल पर फंसे हुए एक वाहन में 5 लोगों को सकुशल रेस्क्यू किया गया। इनमें एक गर्भवती महिला भी थी। गर्भवती महिला को रेस्क्यू कर जॉलीग्रांट अस्पताल भिजवाया गया है।

UTTARAKHAND में Heavy Rain ने मचाई तबाही: 4 की मौत, 1 ही परिवार के 7 दबे, 15 लापता

रायपुर के सरखेत में 40 ग्रामीणों को बचाया

UTTARAKHAND के जनपद देहरादून के रायपुर ब्लाॅक के ग्राम सरखेत में शनिवार सुबह बादल फटने की सूचना पर एसडीआरएफ टीम ने मध्य रात्रि से ही रेस्क्यू ऑपेरशन चलाया। सरखेत ग्राम से 40 से अधिक लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। टीम का गांव में आपदा राहत बचाव कार्य जारी है।

अस्वीकृतियों को चुनौती के रूप में लिया और बन गया उत्तराखंड का हिमांशु CDS टाॅपर

नदी आने से गांव में फंसा एक परिवार, रेस्क्यू जारी

UTTARAKHAND की राजधानी-जनपद देहरादून के अलावा पौड़ी जिले के यम्केश्वर ब्लॉक के अवी गांव में नदी आने के कारण एक परिवार के फंसे होने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस और एसडीआरएफ टीम घटनास्थल के लिये रवाना हो गई है। मलबा आने के कारण इलाके का मार्ग बाधित बताया जा रहा है। मौके पर राहत-बचाव कार्य जारी हैं।

स्कूल के पास घरों में घुसा मलबा

आपदा से UTTARAKHAND के चार जिलों में हालात भयावह हो गए हैं। जनपद पिथौरागढ़ में मल्लिका अर्जुन स्कूल के पास घरों में मलबा आने की सूचना पर एसडीआरएफ टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंची। यहां गौशाला की दीवार टूटने से एक गाय घायल हो गयी थी और एक बकरी दब गई थी। टीम ने मलबा हटाकर मर चुकी बकरी को निकाल लिया है।

Disaster in Uttarakhand : दून में पुल बहा, 5 लापता; टिहरी और पौड़ी में 2 की मौत

गोशाला में दबी महिला, बचाव कार्य जारी

UTTARAKHAND के जनपद टिहरी के गोदी कोठार गांव में एक गोशाला में महिला के दबे होने की सूचना आपदा प्रबंधन की ओर से पुलिस को दी गई। इसके बाद सूचना एसडीआरएफ को साझा करते हुए बचाव कार्य में मदद के लिए कहा गया। एसडीआरएफ टीम मौके के लिए रवाना हो चुकी है।

UTTARAKHAND के चकराता में पेड़ गिरने से रोड बंद

देहरादून जिले के चकराता ब्लाॅक में भारी बारिश के कारण पेड़ गिर गया। इससे रोड ब्लाॅक हो गई। रोड पर यातायात बंद होने से लोग जहां-तहां फंसे होने की सूचना मिली। इसके बाद पहुंची एसडीआरएफ टीम ने मार्ग से पेड़ हटाकर यातायात सुचारू करवाया।

रिसोर्ट में फंसे लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया

UTTARAKHAND के जनपद देहरादून के लालपुल के पास जंगल गदेरा के पास रिसोर्ट में कुछ लोगों के फंसे होने की सूचना पर एसडीआरएफ वाहिनी मुख्यालय जौलीग्रांट से रविंद्र धस्माना के हमराह रेस्क्यू टीम तत्काल घटनास्थल के लिये रवाना की गई है।

यहां NH पर पेड़ गिरने यातायात बंद, ऐसे हुआ सुचारू

भारी बारिश के बाद जनपद टिहरी के शिवपुरी से 3 किलोमीटर आगे नेशनल हाईवे-58 पर पेड़ गिरने से अवरुद्ध होने की सूचना मिली। इसके बाद मौके पर पहुंची एसडीआरएफ और पुलिस की टीम ब्यासी पोस्ट से रेस्क्यू के लिए घटनास्थल के लिए भेजी गई है।

यहां विदेशी पर्यटक लापता, खोजबीन शुरू की

भारी बारिश के बाद जहां चार जिलों में तबाही का मंजर देखने को मिल रहा है, वहीं सीमांत जनपद उत्तरकाशी में डोडीताल मार्ग से एक विदेशी यात्री लापता हो गया। पुलिस को सूचना मिलने के बाद विदेशी पर्यटक की खोजबीन के लिए एसडीआरएफ पोस्ट उजेली से टीम रवाना की गई है।

कुमाल्डा में मलबा आया, यहां से मिला 1 शव

UTTARAKHAND जनपद टिहरी गढ़वाल के कुमालड़ा क्षेत्रान्तर्गत मलबा आने की सूचना पर वाहिनी मुख्यालय जॉलीग्रांट से रेस्क्यू टीम एचसी पंकज घिल्डियाल के हमराह तत्काल घटनास्थल को रवाना हो चकी है। जबकि ऋषिकेश के पशुलोक बैराज ऋषिकेश से एसडीआरएफ पोस्ट ढालवाला टीम ने एक अज्ञात शव बरामद किया। भारी बारिश के बाद गंगा का जल स्तर खतरे के निशान को छूने के साथ ही और जल स्तर बढ़ने से बाढ़ जैसे हालात मैदानी इलाकों में भी पैदा होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: Disaster in Uttarakhand : दून में पुल बहा, 5 लापता; टिहरी और पौड़ी में 2 की मौत

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Weather: भारी बारिश से जगह- जगह तबाही का मंजर, आज भी तीन जिलों में येलो अलर्ट

यह भी पढ़ें: Disaster Relief Operation: तबाही के बाद राहत बचाव कार्य जारी, सीएम खुद उतरे सड़कों पर