UKSSSC Paper Leak: जेल में बंद 6 नकल माफिया ने ऐसे करवाया सचिवालय रक्षक भर्ती का Paper Leak

0
5477
UKSSSC uttarakhand की इन 3 EXAM की भी करेगी जांच, जालसाजों की बढ़ी धड़कने
  • सचिवालय भर्ती परीक्षा का ऐसे हुआ था छपने से पहले पेपर लीक
  • 2019 में परीक्षा के पेपर लीक में जेल में सजा काट रहे 6 अरोपियों पर इस मामले में भी दर्ज किए गए केस

UKSSSC Paper Leak: 10-10 लाख में Leak हुआ पेपर

देहरादून, ब्यूरो। UKSSSC Paper Leak मामले मे एक और भर्ती परीक्षा के पेपर लीक का भी STF खुलासा कर चुकी है। उत्तराखंड में अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) की 2019 में हुई स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा के पेपर लीक में जेल में सजा काट रहे छह आरोपियों ने UKSSSC के इस Exam से पहले सचिवालय रक्ष भर्ती परीक्षा का पेपर भी लीक कर 10-10 लाख रुपये में बेचा था।

छपने से पहले पेन ड्राइव से लीक हो गया था ये पेपर

UKSSSC Paper Leak: इस भर्ती परीक्षा का पेपर लखनऊ की प्रिंटिंग प्रेस में छपने से पहले ही पेन ड्राइव से कंप्यूटर आपरेटर ने लेकर दूसरे प्रिंटिंग प्रेस कर्मी को दिया था। इसके बाद यह पेपर उत्तराखंड के चार अन्य आरोपियों ने 10-10 लाख रुपये में खरीद कर कई लोगों को लीक कर सॉल्व करवाया था। STF ने इस मामले की जांच भी अब शुरू करते हुए जेल में बंद सभी 6 आरोपियों पर विभिन्न धाराओं में और केस दर्ज कर लिए हैं।

uksssc dehradun

एसटीएफ ने उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) की ओर से करवाई गई सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा पेपर मामले का भी खुलासा कर दिया है। 2021 में 916 पदों के लिए पदों के लिए हुई स्नातक स्तरी भर्ती के पेपर लीक मामला सामने आने के बाद रोज कई खुलासे हो रहे हैं। एक दिन पहले GB पंतनगर यूनिवर्सिटी का एक रिटायर्ड एईओ (असिस्टेंट एस्टेब्लिसमेंट ऑफिसर) दिनेश चंद्र जोशी को भी गिरफ्तार किया है। अब तक इस Uksssc Paper Leak मामले में 23 नकल माफिया जेल में डाले जा चुके हैं। इन्हीं नकल माफिया से अब कई और भर्तियों के पेपर लीक के भी खुलासे हो रहे हैं। इनमें से फॉरेस्ट गार्ड भर्ती और CJM कोर्ट में हुई भर्तियों की भी जांच STF कर रही है।

sec uk uksssc

इसके साथ ही इस मामले में पूर्व में गिरफ्तार प्रसिद्ध लोकगायक गोपाल बाबू गोस्वामी के पुत्र और बागेश्वर में शिक्षक पद पर तैनात जगदीश गोस्वामी को निलंबित भी किया था। वहीं, अब पूर्व में अरेस्ट और जेल में सजा काट रहे छह नकल माफियाओं को एसटीएफ पुलिस कस्टड़ी रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। इससे कई और नकल माफिया और नकल करने वाले अभ्यर्थियों के अरेस्ट होने की संभावना जताई जा रही है।

ट्रायल के तौर पर किया था इस UKSSSC परीक्षा का Paper Leak

नकल माफिया ने ट्रायल के तौर पर सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक करवाया था। इस मामले में पूर्व में गिरफ्तार लखनऊ प्रिंटिंग प्रेस का कर्मचारी जयजीत, पीआरडी कर्मचारी मनोज जोशी, कनिष्ठ सहायक सितारगंज सीजेएम मनोज जोशी, चांदपुर बिजनौर निवासी कुलबीर सिंह, दीपक चैहान निवासी टिहरी गढ़वाल के खिलाफ एक और मुकदमा हो चुका है। पूछताछ में खुलासा हुआ कि दस-दस लाख रुपए में यह पेपर बेचा गया था। लखनऊ प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी कंप्यूटर ऑपरेटर प्रदीप पाल ने छपने से पहले ही पेपर पेन ड्राइव में लेकर परीक्षा से 1 दिन पहले ही प्रिंटिंग प्रेस के दूसरे कर्मचारी जयजीत को सौंपा था।

पेन ड्राइव से परीक्षा से एक दिन पहले हो गया था UKSSSC Paper Leak

प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी ने जयजीत ने पीआरडी कर्मचारी मनोज जोशी निवासी सेरा पाटी जिला चंपावत को दिया। उसके बाद पेपर सितारगंज सीजेएम कोर्ट के कनिष्ठ सहायक मनोज जोशी को दिया। वहां से शादीपुर चांदपुर बिजनौर निवासी कुलबीर सिंह और दीपक चैहान निवासी टिहरी गढ़वाल को उपलब्ध करवाया।

SSP STF अजय सिंह ने बताया कि सभी आरोपियों के खिलाफ पूर्व में चल रहे मुकदमों के साथ ही सचिवालय रक्षक भर्ती पेपर लीक करवाने पर भी अन्य विभिन्न धाराओं में अलग से केस दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच के साथ ही आरोपियों पीसीआर पर लेकर और आरोपियों को भी सलाखों के पीछे डाला जाएगा।

STF अब UKSSSC की इन 3 EXAM की भी करेगी जांच, जालसाजों की बढ़ी धड़कने

UKSSSC पेपर लीक : STF ने एक और माफिया दबोचा, 21 हो चुके अरेस्ट