Tuesday, September 27, 2022
HomeCrimeScholarship Scam Uttarakhand: शासन ने दी अनुमति, 500 करोड़ के गबन में...

Scholarship Scam Uttarakhand: शासन ने दी अनुमति, 500 करोड़ के गबन में इन 7 अफसरों पर चलेगा अभियोग

Uttarakhand News- Dehradun/Rudrapur Bureau: Scholarship Scam Uttarakhand: देहरादून/रुद्रपुर, ब्यूरो। कई सालों से उत्तराखंड के समाज कल्याण विभाग हुए 500 करोड़ से अधिक के छात्रवृत्ति घोटाले की जांच कर रही SIT को अब उत्तराखंड शासन ने 5 विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ भी मुकदमा चलाने की अनुमति दे दी है। एसआईटी जल्द ही अनुमति पत्र मिलने के बाद छात्रवृत्ति घोटाले (Scholarship Scam Uttarakhand) में आरोपी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेगी।

दरअसल, 2013 में उत्तराखंड के समाज कल्याण विभाग में छात्रवृत्ति घोटाले (Scholarship Scam Uttarakhand) का खुलासा होने के बाद इसकी जांच के लिए एसआईटी गठित की गई। देहरादून, हरिद्वार के साथ ही तमाम अन्य जनपदों में कई केस दर्ज किए गए और कई अधिकारी-कर्मचारियों की भी गिरफ्तारियां हुईं।

Scholarship Scam Uttarakhand

Scholarship Scam Uttarakhand: छात्रवृत्ति घोटाले में लिप्त कार्मिकों की कुंडली खंगालेगी अब SIT, जल्द होगी चार्जशीट दाखिल

वहीं, उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर जिले के कई शिक्षण संस्थानों की जांच के बाद भी 8 मुकदमे दर्ज किए गए थे। ऊधम सिंह नगर जनपद के साथ ही अन्य जिलों में भी अलग-अलग विभागीय कर्मचारियों कॉलेज संचालकों पर गबन के पुख्ता सबूत मिलने पर कार्रवाई की गई। कई लोग सलाखों के पीछे भी डाले जा चुके हैं।

अब ऊधम सिंह नगर समाज कल्याण विभाग की छात्रवृत्ति में हुए गोलमाल (Scholarship Scam Uttarakhand) में एसआईटी ने आरोपियों की कुंडली शुरू कर दी है। उत्तराखंड शासन ने इन सभी आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में केस दायर करने की इजाजत दे दी है। पटल सहायक शिव मूर्ति को 11 छात्रवृत्ति के मामलों में आरोपी बनाया था। इनमें से 8 मामलों में मुकदमा चलाने की इजाजत मिली है। 3 मामलों को पिछले साल दिसंबर 2021 में अनुमति मिली थी।

Scholarship Scam UttarakhandUttarakhand PCS

Scholarship Scam Uttarakhand: उत्तराखंड शासन ने दी ये इजाजत 

रुद्रपुर एसपी सिटी मनोज कत्याल के अनुसार शिक्षण संस्थानों की जांच के बाद समाज कल्याण विभाग के कुछ अफसरों और कर्मचारियों के खिलाफ भी केस दर्ज हुए थे। उत्तराखंड शासन ने अब इनमें से 7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट और अभियोग चलाने की इजाजत दे दी है।

इन अधिकारियों-कर्मचारियों पर होगी अब कार्रवाई

छात्रवृत्ति घोटाले में जिला समाज कल्याण अधिकारी हरीश चंद्र राणा, सहायक समाज कल्याण अधिकारी जगमोहन सिंह, सहायक समाज कल्याण अधिकारी कर्म सिंह राणा, सहायक पटल सहायक समाज कल्याण विभाग राजेंद्र कुमार और पटल सहायक समाज कल्याण विभाग शिव मूर्ति के खिलाफ अब एसआईटी मुकदमा दर्ज कर जल्द ही आरोपियों को सलाखों के पीछे डाल सकती हैं। अभी तक कई अधिकारी और कर्मचारी SIT अलग अलग जिलों से अरेस्ट कर जेल में डाल चुकी है।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Police SI exam 2015 Scam : 40 से ज्यादा दारोगा Hakam Singh गैंग ने बनवाए?

यह भी पढ़ें: Jobs Scams: अब UK हाईकोर्ट ने मांगा UKSSSC भर्ती परीक्षाओं से हुई नियुक्तियों का ब्यौरा, CBI करेगी जांच?

RELATED ARTICLES

Most Popular