हादसा होने से बाल बाल बची मुजफ्फरपुर जा रही सप्तक्रांति एक्सप्रेस,पटरियों पर पोल छोड़ भागे मजदूर

0
392
Sapt Kranti Express 
Sapt Kranti Express 

Sapt Kranti Express 

आज यानी शुक्रवार को सप्तक्रांति एक्सप्रेस हादसे का शिकार होने से बाल बाल बची। दरअसल रेलवे ट्रैक पर मजदूर काम कर रहे थे जब मजदूरों ने ट्रेन को रफ्तार से आता देखा तो पोल को ट्रैक पर छोड़ दिया और वहां से भाग गए। पटरी पर पोल को देख ट्रेन के ड्राइवर ने समझदारी दिखाते हुए इमरजेंसी ब्रेक लगाकर बड़ा हादसा होने से रोक दिया।

Sapt Kranti Express
Sapt Kranti Express

Sapt Kranti Express : घटना कुंवरपुर चिंतामनपुर रेलवे हॉल्ट पर हुई

आपको बता दें कि ये घटना कुंवरपुर चिंतामनपुर रेलवे हॉल्ट पर हुई है। हॉल्ट पूर्वी चंपारण जिले के कुंदिया, कुंवरपुर में स्थित है।

इस रेलवे पटरी पर मरम्मत का काम चल रहा था, रेलवे की पटरी पर दर्जनों मजदूर काम कर रहे थे, इसी दौरान मजूदरों और ट्रैकमैन ने सप्तक्रांति एक्सप्रेस के आने की आवाज सुनी और ट्रेन को आता देख मजदूर पोल को लेकर भाग नहीं पाए, इसिलिए उन्होंने पोल को पटरी पर ही छोड़ दिया। पटरी पर पोल को देख ट्रेन के ड्राइवर ने समझदारी दिखाते हुए इमरजेंसी ब्रेक लगाकर बड़ा हादसा होने से रोक दिया। फिलहाल घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है।

Sapt Kranti Express पहले भी बड़ा हादसा होने से टला

आपको बता दें कि इससे पहले भी बिहार में एक बड़ा ट्रेन हादसा टल गया था,उस समय ट्रेन रास्ता भूल गई थी और दूसरे ट्रैक पर चलने लग गई थी ट्रेन को समस्तीपुर जाना था लेकिन को विद्यापतिनगर पहुंच गई थी।

वहीं हाल ही में कुछ अराजक तत्वों ने देहरादून में भी ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त करने की साजिश की, लेकिन लोको पायलट की सूझबूझ के चलते ये साजिश असफल रही। आपको बता दें कि कुछ अराजक तत्वों ने डोईवाला से आगे ट्रैक पर करीब 20 फीट लंबा लोहे का पाइप बांधा हुआ था। जैसे ही देहरादून से अमृतसर जा रही लाहौरी एक्सप्रेस डोईवाला से आगे निकली, ये पाइप ट्रेन के पहिये में जाकर फंस गया, लोको पायलट ने अपनी सूझबूझ से ब्रेक लगा दिए, जिससे एक बड़ा हादसा होने से टल गया,

ये भी पढे़ं : अरुणाचल प्रदेश में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश