रुद्रप्रयाग पालिका की शानदार पहल, पहली बार बनाया गया ऐसा पार्क, जिसे देख लोग कर रहे प्रशंसा

0
255

रुद्रप्रयाग (संवाददाता- नरेश भट्ट): नगर पालिका रुद्रप्रयाग ने शानदार पहल की है, जिसका स्वागत नगरवासी कर रहे हैं। पालिका की ओर से यूज की गई

YOU MAY ALSO LIKE

प्लास्टिक बोटलों, खराब टायर और एलईडी बल्ब का उपयोग पार्क निर्माण में किया गया है। इन्हें बेहतरीन तरीके से पेंट के जरिये पार्क को सुंदर बनाया गया है। इसके साथ ही पार्क में बच्चों के खेलने की सामग्री के साथ ही युवाओं के लिए जिम भी लगाया गया है। अभी नगर पालिका का यह पहला प्रयास है, जिसका लाभ बच्चों से लेकर बुजुर्ग लोग तक उठा रहे हैं।

बता दें कि रुद्रप्रयाग नगर क्षेत्र के पार्को के बदरंग होने से लोग यहां बैठना तो दूर देखना भी पसंद नहीं करते थे। ऐसे में नगर पालिका की तत्कालीन अधिशासी अधिकारी सीमा रावत और पालिका अध्यक्ष गीता झिंक्वाण ने पार्को के सौन्दर्यीकरण के साथ ही यहां पर ऐसी सुविधाएं जुटाने की सोची, जिससे सभी को पार्क का लाभ मिल सके। इसमें यह भी ध्यान रखा गया कि कम खर्च पर पार्क को सुंदर बनाया जा सके। काफी प्रयासों के बाद रुद्रप्रयाग-कोटेश्वर मार्ग पर नगरपालिका की ओर से सुंदर पार्क का निर्माण किया गया।

पार्क में बुजुर्ग लोगों के लिए बैठने की जगह बनाई गई है तो बच्चों के लिए खेलने की सामग्री भी लगाई गई है। इसके अलावा युवाओं को चुस्त-दुरूस्त रखने के लिए जिम का सामान भी लगाया गया है। ऐसे में जहां बुजुर्ग लोग इस जगह पर आकर व्यू प्वाइंट से अलकनंदा नदी का दीदार कर असीम शांति की अनुभूति कर सकतें हैं तो बच्चे मनोरंजन के साधनों का आनंद ले सकते हैं, जबकि युवा जिम करके खुद को स्वस्थ रख सकते हैं।

यह पहल पहली बार नगर पालिका क्षेत्र में की गई है, जिसका स्वागत नगर की जनता कर रही है। स्थानीय निवासी संदीप कोठारी, नरेन्द्र रावत, ने बताया कि पहले रुद्रप्रयाग से कोटेश्वर मार्ग पर सुबह-शाम टहलने वाले लोगों के लिए बैठने तक के लिए कोई जगह नहीं थी न ही बच्चों के लिए खेलने के लिए कोई मैदान या कोई ऐसा स्थल था, जहां पर बच्चे अपना मनोरंजन कर सकें, पर अब पालिका ने जिला प्रेस क्लब के बगल में सुंदर पार्क का निर्माण किया है, जिसका लाभ बच्चे से लेकर बुजुर्ग लोगों को भी मिल रहा है।

नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिंक्वाण ने कहा कि पालिका की ओर से नगर को सुंदर बनाये जाने के प्रयास किये जा रहे हैं। नगर पालिका ने कोटेश्वर में एक छोटी सी पहल की है। यहां बनाये गये पार्क में पुराने टायरों के साथ ही प्लास्टिक बोतलों का भी उपयोग किया गया है। इन्हें रंग-बिरंगे पेंट से सजाया गया है। इसके अलावा एलईडी बल्बों से भी पार्क को एक अलग तरीके का रूप दिया गया है। उन्होंने कहा कि नगर क्षेत्र की जनता को भी प्लास्टिक कचरे का किसी चीज में उपयोग करना चाहिए। इस प्लास्टिक कचरे को फैंकने से अच्छा है कि अपने आस-पास बगीचों या घरों के निर्माण में प्रयोग किया जाए। उन्होंने कहा कि पार्क निर्माण में खराब चीजों का उपयोग करने का मकसद यही है कि लोगों तक एक संदेश जाए कि इस कूड़े का विभिन्न तरीके से प्रयोग किया जा सकता है। ऐसे में जहां पालिका क्षेत्र में प्लास्टिक कचरा कम होगा, वहीं पर्यावरण संतुलन भी बना रहेगा। साथ ही लोग अपने घरों एवं बगीचों को सजाकर आकर्षक बना सकते हैं।

Follow us on our Facebook Page Here and Don’t forget to subscribe to our Youtube channel Here