क्यों मंदिर में प्रवेश करने से पहले बजाई जाती है घंटियां?

0
374
Ring Bells in Hindu Temples
Ring Bells in Hindu Temples

Ring Bells in Hindu Temples: क्या है घंटी बजाने के पीछे के धार्मिक और वैज्ञानिक कारण?

Ring Bells in Hindu Temples: हम जब भी मंदिर जाते हैं तो मंदिर के दरवाज़ों पर घंटियां लटकी होती हैं। इन घंटियों को बजाने के बाद ही हम मंदिर में प्रवेश करते हैं, मगर क्या आपको मालूम है कि इन घंटियों को बजाया (Ring Bells in Hindu Temples) क्यों जाता है, इसके पीछे क्या धार्मिक कारण है और क्या वैज्ञानिक कारण।

चाहे बच्चे हों, जवान हों या फिर बूढ़े हों, सभी मंदिर में प्रवेश करने से पहले प्रवेश द्वार में लगी घंटी को बजाकर ही मंदिर (Ring Bells in Hindu Temples) में प्रवेश करते हैं। इसके साथ ही मंदिर में आरती के समय पर भी घंटियां बजाई जाती है। ऐसा माना जाता है कि घंटिया बजाने (Ring Bells in Hindu Temples) से मंदिर में विराजमान देवी- देवताओं की मूर्तियों के अंदर चेतना जागृत होती है और ऐसे में पूजा कई ज्यादा फलदायक होती है।

इस बात का जिक्र पुराणों में भी किया गया है। ऐसी मान्यता है कि जब मंदिर की घंटियां बजाई जाती है (Ring Bells in Hindu Temples) तो इंसान के कई जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं। पुराणों में ये भी कहा गया है कि जब सृष्टि की शुरुआत हुई थी तो उस वक्त जो आवाज गूंजी थी वो उसी प्रकार की आवाज थी जैसे घंटी बजाने पर आती है, यही कारण है कि घंटी को उसी नाद यानी की आवाज का प्रतीक माना जाता है।

ये भी पढ़ें:
Budheshwar Mahadev Mandir
सोमवार नहीं बल्कि बुधवार को चढ़ाया जाता है यहां शिवलिंग पर जल, वजह है खास

इसके साथ ही घंटियों का बजना (Ring Bells in Hindu Temples) काल का प्रतीक भी माना जाता है। मना जाता है कि जिस प्रकार किसी शुभ कार्य की शुरुआत में घंटियां बजाई जाती हैं वैसे ही जब धरती में प्रलय आएगी तब भी वातावरण में इसी प्रकार की आवाज सुनाई देगी।

ये तो हुआ धार्मिक कारण अब बात करते हैं घंटी बजाने के पीछे के वैज्ञानिक कारण की। वैज्ञानिकों का मानना है कि जब घंटी बजाई जाती है (Ring Bells in Hindu Temples) तो उससे वातावरण में एक प्रकार की कंपन पैदा होती है जो वायुमंडल के कारण काफी दूर तक जाती है।

ये कंपन जितनी दूर तक जाती है उसके अंदर आने वाले सभी विषाणु, जीवाणु व सूक्ष्म जीव नष्ट हो जाते हैं। ऐसा होने से मंदिर और मंदिर के आसपास का वातावरण शुद्ध रहता है। ऐसा माना जाता है कि जिन मंदिरों में घंटियां रोजाना बजाई जाती हैं (Ring Bells in Hindu Temples) उस जगह के आसपास का वातावरण हमेशा शुद्ध और पवित्र रहता है, ऐसी जगहों पर हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का वास रहता है।     

ये भी पढ़ें:
Buddha Amarnath Temple
क्यों इस मंदिर के दर्शन किए बिना अधूरी मानी जाती है अमरनाथ यात्रा?

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com