रेवड़ी संस्कृति : PM मोदी के बयान पर CM केजरीवाल ने किया ये पलटवार

0
228

आप-बीजेपी की जंग आम आदमी पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए कहा है कि शिक्षा, स्वास्थ्य, आदि जैसी जन कल्याणकारी योजनाओं पर खर्च हो सकता है। रेवड़ी या मुफ्त के रूप में  इसे नहीं माना जाता है, जैसा कि भाजपा ने दावा किया है।

भाजपा पर कटाक्ष करते हुए केजरीवाल ने कहा कि “कुछ लोगों के लिए ऋण माफी और कर राहत” को मुफ्त माना जाना चाहिए। आगे यह कहा- कि “कुछ दल चुनाव से पहले कुछ वादे करते हैं लेकिन सरकार बनने पर पूरी तरह से कुछ अलग करते हैं। सरकार बनने के बाद, उन्होंने केवल कुछ लोगों के 10 लाख करोड़ रुपये माफ कर दिए। सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मुफ्त में रेवड़ी वाली प्रधानमंत्री की टिप्पणियों पर मोदी सरकार पर हमला किया। प्रधान मंत्री मोदी ने कहा कि देश में मुफ्त रेवड़ी बांटकर वोट इकट्ठा करने की संस्कृति लाने का प्रयास किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने इस  रेवड़ी  संस्कृति के खिलाफ लोगों को आगाह किया। इसी पर पलटवार करते हुए अरविन्द केजरीवाल ने कहा की जो कुछ चुनिंदा लोगों को मोदी सरकार जो छूट दे रही है वह रेवड़ी कहलाता है ना कि जो हम मूलभूत जनता से जुड़ी रोज़मर्रा की जरूरतें जिनमें -चिकित्सा, शिक्षा और स्वास्थ्य है। वैसे ये अदावत तो पुरानी है,चलती रहेगी। अभी हाल ही में मोदी जी ने चुनावी रेवड़ी पर टिप्पणी की थी. बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे लांच के मौके पर प्रधानमंत्री मोदीजी ने मंच से यह मुद्दा उठाया था।