बेटी के हाथों की हल्दी और मेहंदी भी नहीं मिटी थी और उठ गई अर्थी, मचा कोहराम

0
435
https://youtu.be/BtUCyt1SFYE

बेटी के हाथों की हल्दी और मेहंदी भी नहीं मिटी थी और उठ गई अर्थी, मचा कोहराम

  • पिता ने दामाद पर लगाया गला दबाकर हत्या करने का आरोप, पुलिस कर रही मामले की जांच

रुद्रप्रयाग, ब्यूरो। अभी बेटी के हाथों से शादी की मेंहदी और हल्द्वी भी ढंग नहीं मिटी थी। शादी के बाद मायके वाले काफी खुश थे, लेकिन एक दिन पहले शनिवार को ऐसी मनहूस खबर आई जिससे पूरे परिवार में कोहराम मचा है। 14 अप्रैल को शादी हुई थी, लेकिन 18 जून को बेटी ने मौत को गले लगा लिया। इस नवविवाहिता का लाश घर के कमरे में फंदे से लटकी मिली। कोई सुसाइड नोट भी नहीं है। मौत से कुछ घंटे पहले ही नवविवाहिता सपना देवी की अपने माता-पिता से बात हुई थी। सपना ने किसी तरह की कोई परेशानी होने का भी जिक्र नहीं किया था। सपना की मौत की खबर सुनने के बाद मायके वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। नवविवाहिता सपना देवी के मायके पक्ष का आरोप है कि ससुराल वालों ने उसकी हत्याकर शव फंदे से लटका दिया है। नवविवाहिता के पिता के अनुसार उनकी बेटी का गला दबाकर हत्या की गई है। वहीं, पुलिस ने सूचना के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या के कारणों का सही-सही पता चल पाएगा।

बेटी के हाथों की हल्दी और मेहंदी भी नहीं मिटी थी और उठ गई अर्थी, मचा कोहराम

दरअसल, एक दिन पहले रुद्रप्रयाग के नारायण कोटी गांव की एक नव विवाहिता की लाश संदिग्ध हालत में घर के कमरे में फंदे से लटकी मिली। नव विवाहिता के पिता ने बेटी सपना देवी की हत्या के लिए दामात अनिल लाल और ससुरालवालों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने पुलिस से मामले की जांच कर उनकी बेटी के हत्यारों को सलाखों के पीछे डालने की गुहार लगाई है। बता दें कि उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जनपद के नारायण कोटी गांव की एक नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। विगत 14 अप्रैल 2022 को सिंगोली गांव की सपना देवी का विवाह नारायणकोटी गांव के अनिल लाल से हुई थी। शादी को अभी 2 महीने ही बीते थे कि 1 दिन पहले सपना देवी की संदिग्ध हालत में मौत हो गई।

बेटी के हाथों की हल्दी और मेहंदी भी नहीं मिटी थी और उठ गई अर्थी, मचा कोहराम

जानकारी के अनुसार सपना का घर के कमरे में रस्सी से झूलती लाश मिली है। मायके वाले सपना की मौत को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। मायके पक्ष वालों का आरोप है कि दामाद ने बेटी की हत्या कर दी है। आरोप है कि नवविवाहिता का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया गया। नवविवाहिता के पिता के अनुसार शुक्रवार को ही उनकी बेटी से बात हुई थी। बेटी न तो परेशान थी और न ही उसने किसी विवाद का जिक्र किया। बेटी की मौत के बाद मायके वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। वहीं, इस संबंध थाना प्रभारी के अनुसार पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। मामले की जांच की जा रही है। शांत पहाड़ी इलाकों में इस तरह की वारदात से पुलिस भी हैरान है।