Bhagalpur Blast: भागलपुर बॉम ब्लास्ट में क्यों गूंज रहा है लीलावती का नाम?

0
137

नई दिल्ली, ब्यूरो। बिहार के भागलपुर में हुए बम ब्लास्ट की गूंज अबतक वहां सुनाई पड़ रहीं हैं। इस भयानक बम धमाके में अबतक कुल 14 लोगों की जान जा चुकी है और अभी भी यहां के हालातों में कुछ खासा सुधार नहीं आया है।

YOU MAY ALSO LIKE

इस पूरी घटना के पीछे एक नाम लीलावती अधिकतर लोगों की जुबान में चढ़ा हुआ है। आसपास के लोगों का कहना है कि लीलावती दशकों से बारूद का ये खतरनाक और अवैध कारोबार करती थी, जिसमें उसका साथ उसकी दो बेटियां भी देती थी। स्थानीय लोगों के अनुसार लीलावती काजवली चक में बारूद का अवैध कारोबार चला रही थी। ये कारोबार लीलावती कोयले के कारोबार की आड़ में किया करती थी। लोगों के मुताबिक लीलावती साल के बारह महिनों में से दो महीने कोयले का कारोबार करती थी और बाकी के महीनों में बारूद का अवैध कारोबार करती थी।

55 वर्षीय लीलावती के इस कारोबार में उसकी दोनों बेटियां उसका पूरा साथ देती थी। लीलावती की बड़ी बेटी पिंकी की शादी कई सालों पहले हो चुकी थी और उसके दो बच्चे भी थे जो इस धमाके में मारे गए। आपको बता दें कि लीलावती की बड़ी बेटी पिंकी अपने पती को छोड़कर अपनी मां के साथ रहती थी। लोगों का कहना है कि पिंकी के अपनी मां के साथ इस कारोबार को करने पर पिंकी का पती विरोध करता था जिसके बाद मां लीलावती अपनी बेटी पिंकी को अपने साथ अपने घर ले आई। वहीं छोटी बेटी आरती की शादी भी अभी हाल ही में हुई थी जिसकी इस दुर्घटना में मौत हो गई।

दो दशकों से बारूद के इस अवैध कारोबार को चलाने वाली लीलावती के पती की 25 साल पहले ही मृत्यू हो गई थी, जिसके बाद उसने अकेले ही अपनी दो बेटियों को पाला। आपको बता दें कि इस कारोबार से लीलावती का लाखों का टर्न ओवर होता था जो की आज उसके पूरे परिवार का काल बनकर तबाह हो गया।  

Follow us on our Facebook Page Here and Don’t forget to subscribe to our Youtube channel Here