Arvind Kejriwal की शराब पालिसी, पड़ी Manish Sisodia पर भारी

0
379
manish sisodia residence, manish sisodia , cbi raid

Manish Sisodia के घर पहुंची CBI

दिल्ली के डिप्टी सीएम Manish Sisodia के घर CBI ने दस्तक दी है और छापेमारी की है. डिप्टी सीएम के घर आज CBI पहुंची। दिल्ली में शराब पालिसी को लेकर जो गहमागहमी चल रही है, बताया जा रहा कि उसी सन्दर्भ में CBI ने दिल्ली समेत 7 राज्यों में 21 ठिकानों पर छापेमारी की.

सूत्र बताते हैं कि CBI की ये छापेमारी दिल्ली सरकार की एक्साइज पालिसी [शराब] को लेकर है, जिसने हलचल मचा रखी है. इसी कड़ी में बताया जा रहा है कि पिछले दिनों दिल्ली के उपराज्यपाल विनय सक्सेना ने Arvind Kejriwal की शराब पालिसी को लेकर CBI जांच की सिफारिश की थी और उन्होंने एक रिपोर्ट जो मुख्य सचिव ने दी थी उस के बाद ये सिफारिश की थी और इसी रिपोर्ट के अनुसार उपराज्यपाल को मनीष सिसोदिया की भूमिका को लेकर संदेह हुआ था. चूँकि दिल्ली का एक्साइज डिपार्टमेंट खुद Manish Sisodia के पास है तो उन पर सवाल उठना लाजिमी है.

Arvind Kejriwal की शराब पालिसी, पड़ी मनीष सिसोदिया पर भारी

cbi raid

CBI की कार्रवाई

सूत्र बता रहे हैं कि CBI की टीम डिप्टी सीएम, दिल्ली एक्साइज कमिश्नर अरावा गोपी कृष्णन के घर समेत 21 ठिकानों पर पहुंची है और दिल्ली समेत 7 राज्यों में कार्रवाई चल रही है.

manish

Manish Sisodia का ट्वीट
उधर Manish Sisodia ने अपने बचाव में कहा कि “CBI आयी है और उनका स्वागत है। हम कट्टर ईमानदार हैं ,लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है. इसलिए हमारा देश अभी तक नंबर -एक नहीं बन पाया।

डिप्टी सीएम ने आगे कहा कि वो जांच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच सबके सामने आ सके। उन्होंने ये भी कहा कि ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के अच्छे काम से घबरा गए हैं और इसीलिए सत्येंद्र जैन को पकड़ा है। दरअसल पिछले दिनोंईडी ने मनी लॉन्डरिंग मामले में सत्येंद्र जैन को पकड़ा है. वैसे डिप्टी सीएम ने पूरे विश्वास से कहा कि आरोप झूठे हैं और कोर्ट में खारिज हो जायेंगे.

सवालों के घेरे में Arvind Kejriwal की शराब नीति

बताया जा रहा है की Arvind Kejriwal की शराब नीति में बहुत विसंगतियां हैं, जैसे नई एक्साइज ड्यूटी में गड़बड़ी,अनुचित लाभ शराब लाइसेंसधारक को और लाइसेंस जारी करते समय नियमों की अनदेखी। टेंडर के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ माफ़ कर दिए जो सवालों के घेरे में है. रिपोर्ट में आरोप लगे गया कि लाइसेंस के बदले रिश्वत ली गयी और इस नीति की वजह से राजस्व को भारी नुक्सान हुआ है.

Arvind Kejriwal 1

केजरीवाल का निशाना

उधर Arvind Kejriwal ने भी बिना देरी किये ट्वीट किया और कहा कि “हम CBI का स्वागत करते हैं और पूरा सहयोग भी करेंगे। जैसे पहले की जांच में कुछ नहीं निकला आगे भी नहीं निकलेगा। उन्होंने निशाना साधते हुए बोला कि New york Times के पहले पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ और Manish Sisodia की फोटो छपी है और विरोधियों को ये बात पसंद नहीं आयी और ये CBI कार्रवाई कर दी।

ये भी पढ़ें…. “Rohingya मुसलमानों को मुफ्त फ्लैट देना चाहती थी आम आदमी पार्टी”