जम्मू-कश्मीर में बड़े हमले साजिश नाकाम, 2 आतंकी ढेर, 3 जवान भी हुए शहीद

0
335

जम्मू- कश्मीर के राजौरी में भारतीय सेना ने एक बड़े हमले को नाकाम कर दिया है। यहां आतंकियों ने बुधवार देर रात आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश की, जिसकी जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी ढेर हो गये। इस घटना में भारतीय सेना के तीन जवान भी शहीद हो गये और 5 जवान घायल भी हो गये। इस घटना के बाद सेना ने पूरे क्षेत्र में सर्च अभियान शुरू कर दिया है।
स्वतंत्रता दिवस से पहले भारतीय सेना ने आतंकवादियों की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। बताया जा रहा है कि बुधवार को देर रात आतंकियों ने राजौरी से 25 किलोमीटर दूर परगल कैंप में हमला करने के लिए घुस गये। इन आतंकियों ने सेना कैंप की बाड़ को पार करने की कोशिश की। जिसके बाद भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। इस घटना में सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया। हालांकि इस घटना में भारतीय सेना के तीन जवान भी शहीद हो गये।  जिसके बाद दोनों ओर से गोलियां चलने लगी। इस हमले की सूचना मिलने के बाद सेना ने पूरे क्षेत्र में आतंकवादियों की तलाश के लिए सर्च अभियान शुरू कर दिया है। घायल जवानों को तुरंत अस्पताल भेज दिया गया है। 16 कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मनजिंदर सिंह लगातार जमीनी हालात पर नजर रखे हुए हैं और इलाके को सेनेटाइज किया जा रहा है। एएनआई को दिए एक बयान में, मुकेश सिंह, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, जम्मू ने कहा, “किसी ने राजौरी के दरहल क्षेत्र में परगल में सेना के शिविर की बाड़ को पार करने की कोशिश की जिसे हमारी सेना ने बखूबी संभाला और जवाबी करवाई की ,जिसमे दोनों आतंकवादी मारे गए।
हमले के पीछे की साजिश
 बुधवार को, बडगाम में सुरक्षाबलों द्वारा 3 आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया था। मारे गए आतंकवादियों में से एक आतंकवादी लतीफ राथर भी है। जो कश्मीरी पंडितों  राहुल भट और आमीन भट सहित कई अन्य कश्मीरी पंडितों की हत्या में शामिल था। यह हमला स्वतंत्रता दिवस समारोह से ठीक  पहले हुआ है। इसको देखते हुए सुरक्षा एजेंसी हाई अलर्ट मोड पर हैं और माहौल पर नजर बनाए हुए हैं।