इस बार मतदाताओं के लिए प्रशासन की ओर से ये सुविधाएं, जानिए अहम जानकारियां

बागेश्वर (संवाददाता- मनोज टंगडिया): प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लगने के बाद कुमाऊं के पहाड़ी जनपद बागेश्वर में भी जिला प्रशासन ने विधानसभा चुनावों को लेकर सभी तैयारियां पूर्ण कर ली है। बागेश्वर जिले के 2 लाख 16 हजार 765 मतदाताओं के लिए 376 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। कपकोट और बागेश्वर को चार जोनल  और 75 सेक्टरों मे बांटा गया हैं।

बीएलो को ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष जिम्मेदारी दी गई है। दिव्यांग और बुजुर्ग महिला और पुरूष मतदाताओं के लिए इस बार पोस्टल बैलेट पेपर मान्य किया गया हैं। जिला अधिकारी विनीत कुमार और पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव ने बागेश्वर जिले के नागरिकों से आचार संहिता का पालन करने कि अपील कि हैं। 

आर्दश आचार संहिता के पालन के तहत बागेश्वर, गरूड़, कपकोट, कांडा क्षेत्रों में लगें राजनीतिक प्रचार के बैनर पोस्टरों को उतारा जा रहा है। बागेश्वर जिले में 66 पोलिंग स्टेशन दुर्गम हिमालयी क्षेत्रों में आते हैं। इन क्षेत्रों के लिए वायरलेस सेट के माध्यम से संपर्क कर सूचनाएं प्राप्त करने की व्यवस्था की गई है। 15 जनवरी तक राजनीतिक रैली बंद है। भविष्य में भी ओमीक्रान वायरस को देखते हुए केवल 05 लोगों को ही डोर टू डोर प्रचार कि अनुमति होगी। राजनीतिक रैलियों में कोविड कि एसओपी का पालन करना आवश्यक है।

पुलिस अधीक्षक बागेश्वर का कहना है कि बागेश्वर जिले में आर्दश आचार संहिता का अनुपालन कराया जा रहा है जो प्राथमिक कार्यवाही होती है, उसे अमल में लाया जा रहा है। बागेश्वर के जिन क्षेत्रों में नेटवर्क कि समस्या हैं उन जगहों पर वायरलेस सेट के माध्यम से चुनावों को व्यवस्थित रूप से कराने कि व्यवस्था कि गई हैं।

https://devbhoominews.com Follow us on Facebook at https://www.facebook.com/devbhoominew…. Don’t forget to subscribe to our channel https://www.youtube.com/devbhoominews

Leave a Reply

Your email address will not be published.