पुलिस ने पकड़ा बच्‍चा चोर, आरोपित ने फर्जी दस्तावेज भी बनवाये थे, 2 बच्चे बरामद

 Human trafficking

Haridwar : बस अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर लावारिस घूमने वाले बच्चों को चोरी कर(Human trafficking) बेचने वाले एक शातिर आरोपित को हरिद्वार पुलिस ने बदायूं UP से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने उसकी निशानदेही पर देहरादून व बदायूं में बेचे गए 2 बच्चे भी बरामद किए गए हैं। 1 बच्चे को गाजियाबाद और दूसरे को दिल्ली से चोरी किया गया था। पुलिस अब इन बच्चों के मां-बाप के बारे में जानकारी जुटने में लगी है ।

 Human trafficking : पुलिस ने UP से किया गिरफ्तार

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि 21 अगस्त को लक्सर की महिला ने अपनी नाबालिग पुत्री के अपहरण और दुष्कर्म करने का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने जांच की तो आरोपित मोहम्मद मुस्ताक निवासी बदायूं उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया।

ये भी पढ़ें…  Shraddha Murder Case : अब तक सामने आईं ये बातें… आफताब को अफसोस तक नहीं, चैन से सो रहा जेल में

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसने पहले भी 2 बच्चों को चुराया हैं, उसने 1 देहरादून में और दूसरा बदायूं में बेचा था। दोनों बच्चों को पुलिस ने बरामद कर लि‍या है। अब उनके माता-पिता की तलाश की जा रही है।

 Human trafficking

 Human trafficking : आरोपित ने फर्जी दस्‍तावेज किए थे तैयार

SSP अजय सिंह ने बताया कि आरोपित मुस्ताक ने चाइल्ड हेल्पलाइन और प्रयास अनाथालय दिल्ली के फर्जी दस्तावेज तैयार किए थे। वह बस और रेलवे स्टेशनों पर लावारिस घूम रहे बच्चों को निशाना बनाता था और चाइल्ड हेल्प लाइन कार्ड के जरिये बच्चों की रैकी करता था। उस के बाद उनको चुराकर बेच दिया करता था।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com