रुद्रप्रयाग में पिंजरे में कैद हुआ गुलदार, 3 साल की बच्ची को बनाया था शिकार 

0
122
GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG
GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG

UTTARAKHAND DEVBHOOMI DESK:रुद्रप्रयाग के खांकरा क्षेत्र के गहड़खाल गांव में कुछ समय पहले 3 साल की बच्ची को शिकार बनाने वाला आदमखोर गुलदार(GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG) पिंजरे में कैद कर लिया गया है। वन विभाग की टीम ने आदमखोर गुलदार को पकड़ लिया है। आज सुबह पांच बजे के करीब गुलदार आखिरकार पिंजरे में कैद हो गया। फिलहाल गुलदार को वन विभाग की टीम गांव से डीएफओ कार्यालय रुद्रप्रयाग ले गई है। बताया जा रहा है कि इस मादा गुलदार की उम्र लगभग नौ से दस वर्ष के आस पास है।

GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG
GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG

GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG: 3 साल की बच्ची को बनाया था शिकार

बीते 28 सितम्बर को रुद्रप्रयाग के गहड़खाल गांव में एक तीन वर्षीय बच्ची अपनी दादी के साथ घर के आंगन में खेल रही थी। इस दौरान अचानक गुलदार आया और बच्ची को उठा ले गया था। इस झड़प के दौरान बच्ची की मृत्यु हो गई थी।   घटना के बाद से ही वन विभाग की टीम गांव में सक्रिय हो गई थी। (GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG) वन विभाग की टीम ने गाँव के आस पास के क्षेत्र में चार पिंजरे लगा दिये थे। सीसीटीवी और ड्रोन कैमरे की मदद से लगातार गुलदार की गतिविधियां देखी जा रही थी।

GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG
GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG

क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य नरेन्द्र सिंह बिष्ट के अनुसार जब से गुलदार ने बच्ची को शिकार बनाया था, तब से गांव और आस-पास के क्षेत्र में दहशत का माहौल था ग्रामीण शाम होते ही घरों में दुबक रहे थे। (GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG) उन्होंने बताया कि मेडिकल जांच के बाद ही स्पष्ट पता चल पायेगा कि यह वही गुलदार है या दूसरा।

ये भी पढ़ें-

GULDAR ATTACK RUDRAPRAYAG
GULDAR ATTACK RUDRAPRAYAG

आंगन में खेल रही बच्ची को उठाकर ले गया गुलदार, शोर होने पर झाड़ी में छोड़ कर भागा

गुलदार के पकड़े जाने पर वन क्षेत्राधिकारी दिनेश चन्द्र जोशी ने बताया कि घटना के बाद से गुलदार पर वन विभाग की टीम द्वारा लगातार नजर रखी जा रही थी। गुलदार घटना के बाद से कई बार गांव और आस पास के स्थानों पर नजर आ रहा था। (GULDAR CAUGHT IN RUDRAPRAYAG)

WhatsApp Image 2023 09 11 at 12.33.23देवभूमि उत्तराखंड से जुड़ी हर खबर और जानकारी के लिए क्लिक करें-देवभूमि न्यूज