दो सगे नाबालिग भाईयों ने एक साथ लगाई गंगा में छलांग, लापता; घर में कोहराम

0
175

हरिद्वार, ब्यूरो। गर्मी की तपिश बढ़ते ही गंगा किनारे हर कोई नहाने पहुंचते हैं। कम से कम स्थानीय लोग तो जरूर गंगा में स्नान करते देखे जा सकते हैं, लेकिन गंगा में बिना सोचे-समझे अच्छे-अच्छे तैराक भी कई बार डूबते देखे गए हैं। ऐसा ही एक दुःखद मामला हरिद्वार में सामने आया है। यहां दो सगे भाईयों ने एक साथ रेलिंग पर चढ़कर गंगा में छलांग लगाई, लेकिन इसके बाद वह वापस नहीं आ पाए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एक साथ दोनों छलांग लगाई। इस दौरान एक भाई डूबने लगा। उसे बचाने के लिए दूसरा भाई बचाने गया तो वह भी लापता हो गया। इससे पहले कि आस-पास के लोग कुछ समझने के साथ ही कर पाते उनका कोई सुराग नहीं लगा। दरअसल, आज हरिद्वार में दो सगे भाई लापता हो गए हैं। सतनाम साखी घाट पर नहाने गए दो सगे भाई गंगा में छलांग लगाने के बाद लापता हो गए। हरिद्वार के कनखल थाना क्षेत्र के जगजीतपुर के रहने वाले दो सगे भाई नैतिक (12) और हर्ष (17) पुत्र मनीश राना निवासी कनखल सतनाम साखी घाट पर नहा रहे थे। छलांग लगाने के बाद अचानक एक भाई डूबने लगा। उसे बचाने के लिए गए दूसरा भाई भी लापता हो गया।

ganga me doobe yuvak

आसपास मौजूद लोगों ने बताया कि बताया कि नहाते समय दोनों ने घाट पर लगी रेलिंग पर खड़े होकर नहर की तरफ छलांग लगाई। लेकिन, वापस नहीं पहुंच सके। इस पहले की कोई कुछ कर पाता दोनों लापता हो गए। मौके पर मौजूद लोगों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। कनखल थाना प्रभारी ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस गोताखोरों के साथ मौके पर पहुंची तथा जानकारी एकत्र कर तलाश शुरू कर दी। हादसे का पता लगते ही परिवार में कोहराम मच गया। गर्मियों के दिनों में लोग गर्मी से निजात पाने के लिए गंगा में नहाने जाते हैं। बहुत से लोग लापरवाही करते हुए रेलिंग से मुख्यधारा की तरफ छलांग लगाते हैं जो जानलेवा साबित होता है। ऐसा ही इन दोनों भाईयों के साथ हुआ है। इन्होंने गहरे पानी में छलांग लगा दी। उन्हें भी शायद अंदाजा नहीं था कि इस तरफ गंगा में ज्यादा गहराई और बहाव तेज है।