इंजीनियर भी बन गया झपटामार, दिन में कंपनी में काम; शाम को देते थे वारदात को अंजाम

0
86

पुलिस ने किया इस गिरोह का पर्दाफाश, लालच ने बनाया झपटामार: किसी को शक न हो इसलिए करते रहे कंपनी में काम

हरिद्वार (अरुण कश्यप): हरिद्वार नगर में महिलाओं और राहगीरो के दिल मे दहशत पैदा करने वाले झपटामार गिरोह को कनखल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बता दे कि आज मंगलवार कनखल थाने में एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने झपटामार गिरोह का खुलासा कर बताया कि 20 दिन पहले कांवड़ मेले के चलते शहर में कई क्षेत्रो में महिलाओं की चेन व मोबाइल पर झपटामारी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह कनखल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। झपटामारी गिरोह में शामिल कुलदीप पुत्र बीरबल निवासी बिजनौर उत्तर प्रदेश, विशाल पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी उत्तर प्रदेश ओर सचिन पुत्र राजकुमार निवासी लक्सर हरिद्वार है। बताया कि तीनो झपटामारो को घुड़सवार पुलिस लाइन बैरागी केम्प से एक दिन पूर्व देर शाम में गिरफ्तार किया है। जिनके पास से महिलाओं से चलते हुए खींची गई चार सोने की चैन, चार खींचे गए मोबाइल व घटना में शामिल मोटरसाईकल बरामद हुई है। गिरोह में शामिल तीनो आरोपियों का आपराधिक इतिहास पता किया जा रहा है। कहा कि तीनो आरोपियों को न्यायलय में पेश किया जा रहा है।

crime hrd

ऐसे करते थे वारदात: झपटामार गिरोह में शामिल तीनो आरोपी सिडकुल स्थित एक फैक्ट्री में काम करते थे, तीनो की दिन में शिफ्ट हुआ करती थी, फैक्ट्री में काम खत्म होने के बाद शाम के समय तीनो आरोपी राहगीरो को निशाना बनाकर झपटामारी की घटना को अंजाम देते थे। तीनो का मानना था कि दिन में काम कर रात में वारदात करके किसी को शक नही होगा और हम मालामाल हो जाएंगे, पुलिस भी हमारा पता नही लगा सकती।

प्लस्टिक इंजीनियर बना झपटामार: झपटामार गिरोह में शामिल कुलदीप प्लास्टिक इंजीनियर है और पैसा कमाने के लालच में कुलदीप व दो अन्य साथी विशाल और सचिन झपटामारी की घटना को अंजाम देते थे।

पुलिस टीम को बधाई व 25 हज़ार ईनाम: एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने गिरोह की घड़पकड टीम को बधाई व 25 हज़ार इनाम देने की घोषणा भी की। जिसमे निरीक्षक मुकेश सिंह चौहान प्रभारी निरीक्षक थाना कनखल, अभिनव शर्मा थाना कनखल, खेमेन्द्र गंगवार प्रभारी चौकी जगजीतपुर, बलवंत सिंह थाना कनखल, निर्मल सिंह थाना कनखल, सत्येन्द्र रावत थाना कनखल, प्रदीप थाना कनखल, पाल सिंह थाना कनखल, विकटेश्वर थाना कनखल, भादूराम वर्मा याना कनखल, बलवंत सिंह, सुन्दर सी०आई०यू हरिद्वार ओर वसीम सी०आई०यू हरिद्वार शामिल रहे।