नए साल पर भी बर्खास्त कर्मचारियों का धरना जारी, इस बार अनोखे अंदाज में किया प्रदर्शन

0
389
dismissed employees unique protest

Uttarakhand Devbhoomi Desk: उत्‍तराखंड विधानसभा से बर्खास्त कर्मचारियों का विधानसभा के बाहर लगातार धरना प्रदर्शन जारी है। आज नए साल पर भी बर्खास्त कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन (dismissed employees unique protest) धरना जारी रखा। लेकिन इस बार कर्मचारियों ने विधानसभा के बाहर अनोखे तरीके से प्रदर्शन किया। और सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। बता दें कि इस बार कर्मचारियों ने गले में फांसी का फंदा डालकर सरकार के खिलाफ विरोध जताया। ऐसे में कर्मचारियों का कहना है कि अगर उन्हें न्याय न मिला तो वे आत्मदाह करने के लिए मजबूर होंगे।

यह भी पढ़ें:
winter storm havoc in america
अमेरिका में बर्फीले तूफान ने मचाई तबाही, 60 लोगों की मौत

dismissed employees unique protest: सीएम धामी ने किया जांच का अनुरोध

बर्खास्त कर्मचारियों की मांग को देखते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा अध्यक्ष (dismissed employees unique protest) से बैकडोर भर्ती की जांच का अनुरोध किया। बता दें कि 3 सितंबर को विधानसभा अध्यक्ष ऋतू खंडूरी ने डीके कोटिया की अध्यक्षता में जांच कमेटी बनाई। 22 सितंबर को जांच समिति ने अध्यक्ष को रिपोर्ट सौंपी जिसमे भर्ती में धांधली पाई।

यह भी पढ़ें:
winter storm havoc in america
अमेरिका में बर्फीले तूफान ने मचाई तबाही, 60 लोगों की मौत

गौरतलब है कि विधानसभा में बैकडोर से भर्तियां करने पर सवाल उठने पर विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने 23 सितंबर 2022 को तत्काल प्रभाव से 2016 से 2021 तक की गईं कुल 228 नियुक्तियां को रद्द कर कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया था। इसके बाद से ही बर्खास्त कर्मचारियों ने धरना शुरू कर दिया।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com