राजदूत के नेतृत्व में CM योगी से मिला इजराइली प्रतिनिधिमंडल, इन योजनाओं पर हुआ मंथन

0
334
राजदूत के नेतृत्व में CM योगी से मिला इजराइली प्रतिनिधिमंडल, इन योजनाओं पर हुआ मंथन

यूपी में हाॅर्टिकल्चर और सब्जी उत्पादन के सेंटर आफ एक्सीलेंस होंगे स्थापित, ये देश कर रहा मदद

लखनऊ, ब्यूरो। आज सोमवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के 5 कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर इजराइल देश के राजदूत नाओर गिलोन के नेतृत्व में एक सरकारी प्रतिनिधमंडल ने मुलाकात की। राजदूत के साथ सभी प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने सीएम योगी को एक बार फिर विधानसभा चुनाव में शानदार जीत को लेकर बधाई दी। इसके साथ उन्होंने कहा कि इजराइल कई योजनाओं पर उत्तर प्रदेश का सहयोग करना चाहता है। दूसरी ओर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इजराइल के साथ भारत के करीब 30 सालों के अच्छे संबंध हैं। उन्होंने इजराइल के निवेशकों को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित किया है।

उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान कहा कि इजराइल के सहयोग से उत्तर प्रदेश के बस्ती और कन्नौज जिलों में दो सेंटर आफ एक्सीलेंस स्थापित हुए हैं। दोनों ही अपने उद्देश्यों को पूरा कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अब हमारी योजना हॉर्टिकल्चर और सब्जी उत्पादन क्षेत्र में नए सेंटर आफ एक्सीलेंस की स्थापना की है। इस कार्य में भी हमें इजराइल से आवश्यक सहयोग प्राप्त होगा। साथ ही बताया कि आबादी के हिसाब से सबसे उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य है। 25 करोड़ की जनसंख्या के साथ यहां बड़ा बाजार भी है। इसके अलावा उप्र के बुंदेलखंड क्षेत्र में सिंचाई व पेयजल के क्षेत्र में इजराइल के तकनीकी सहयोग से नवीन परियोजना प्रस्तावित है। इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट आ चुकी है, जल्द ही डीटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार हो जाएगी। इस परियोजना की सफलता बुंदेलखंड के किसानों को 12 महीने फसल प्राप्त करने में उपयोगी होगी, और हर घर नल योजना अपने उद्देश्यों में सफल होगी।

राजदूत के नेतृत्व में CM योगी से मिला इजराइली प्रतिनिधिमंडल, इन योजनाओं पर हुआ मंथन

राजदूत के नेतृत्व में सीएम योगी से मिला इजराइली प्रतिनिधिमंडल, इन योजनाओं पर हुआ मंथन

सीएम योगी ने इस दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस बल दुनिया के विशालतम सिविल पुलिस बल में से एक है। हम अपने पुलिस बल के आधुनिकीकरण की योजना पर काम कर रहे हैं। इस कार्य में इजराइल हमें सहयोग कर सकता है। फोरेंसिक लैब्स की स्ट्रेंथनिंग में भी इजराइल हमारा अच्छा सहयोगी बन सकता है। इसके अलावा कृषि, खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में विकास की असीम संभावनाएं हैं। इजराइल इस क्षेत्र में अपने प्रस्ताव दे सकता है। राज्य सरकार ने नई दिल्ली के निकट यमुना इंडस्ट्रियल एक्सप्रेसवे पर मेडिकल डिवाइस पार्क का विकास कर रही है।