विधि विधान के साथ भक्तों के लिए खुले बाबा केदार के कपाट

0
74

हजारों भक्तों की जयकारों के बीच आज 6 बजकर 25 मिनट पर ग्रीष्मकाल के लिए विश्व विख्यात बाबा केदारनाथ के कपाट खोल दिये गए हैं। केदारनाथ भगवान के कपाट केदारनाथ रावल भीमा शंकर लिंग ने पौराणिक परंपरा व विधि विधान से खोले।

kedarnath 2

6 माह के इंतजार के बाद आज बाबा केदार के भक्तों की मुराद पूरी हो गयी है। 6 बजकर 25 मिनट पर भक्तों के लिए बाबा केदार के द्वार खोल दिये गए हैं। आज सुबह केदारनाथ के प्रधान पुजारी आवास से आर्मी बैंड और स्थानीय वाद्य यंत्रों के साथ बाबा केदार की डोली को मंदिर परिसर की ओर लाया गया, जिसके बाद जय बाबा केदार के उद्घोषों के बीच मंदिर के द्वार खोल दिये गए।

kedarnath

मंदिर के कपाट खुलते ही सम्पूर्ण केदारपुरी जय बाबा केदार के जयकारों से गुंजायमान हो उठी। कपाट खुलते ही बाबा केदार के त्रिकोणीय आकर के स्वयम्भू लिंग को छह माह पूर्व दी गयी समाधि को हटाया गया और विधिवत पूजा शुरू की गई। कपाट खुलने के अवसर पर उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहे। जबकि धाम में आज बाबा के दर्शनों के लिये लगभग बीस हजार यात्री पहुँच चुके हैं।

विधि विधान के साथ भक्तों के लिए खुले बाबा केदार के कपाट