Ankita Bhandari Murder Case : अंकिता भंडारी का शव चीला बैराज से हुआ बरामद

0
557
ankita bhandari murder case,ankita murder case,ankita bhandari murder,ankita bhandari,ankita bhandari murder news,ankita bhandari case update,ankita bhandari case,ankita bhandari news,protest over ankita bhandari murder,ankita bhandari latest news,ankita bhandari rishikesh,ankita bhandari missing case,ankita bhandari uttarakhand,ankita bhandari case pauri,ankita bhandari caste uttarakhand,ankita murder case jharkhand,ankita bhandari case uttarakhand
Ankita Bhandari Missing Case
 आरोपियों ने बताया कि नहर 
में गिरने के बाद अंकिता
 दो बार पानी के ऊपर 
आकर मदद के लिए चिल्लाई भी 
और बाहर आने का प्रयास किया,

Ankita Bhandari Murder Case

एसडीआरफ की टीम ने शनिवार यानी आज चीला पावर हाउस बैराज से अंकिता का शव बरामद किया है। अंकिता के भाई और पिता ने शव की पहचान की है।

पिता और भाई का कहना है कि शव पर जो कपड़े और अन्य सामान है वो अंकिता का ही है। वहीं बेटी का शव देख पिता पूरी तरीके से टूट गए।

Ankita Bhandari Murder Case :रिसॉर्ट मालिक और उसके दो साथियों ने की थी अंकिता की हत्या

रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी उम्र 19 वर्ष की 18 सितंबर को रिसॉर्ट के मालिक और दो अन्य साथियों ने नहर में धक्का देकर अंकिता की हत्या कर दी थी।

Ankita Bhandari Murder Case :वनंत्रा रिजॉर्ट पर देर रात चला बुलडोजर

हरिद्वार के बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे और अंकिता के हत्यारोपी पुलकित आर्य के वनंत्रा रिजॉर्ट पर देर रात बुलडोजर चलाकर उसे गिराने की कार्रवाई की गई, उत्तराखंड में ऐसा पहली बार है, जब सीधे तौर पर प्रशासन ने इस तरह की कार्रवाई की हो। आधी रात को ही पुलिस टीम ने आरोपी के रिजॉर्ट को धवस्त करवाना शुरू कर दिया था।

Ankita Bhandari Murder Case : गुमशुदगी से लेकर हत्या तक क्या है पूरा मामला

गुमशुदगी से लेकर हत्या तक पहुंचे इस हत्याकांड में पुलिस ने आरोपियों से सच उगलवाया तो हर कोई हैरान था, अपर पुलिस अधीक्षक शेखर सुयाल ने जब संदेह होने पर तीनों आरोपी, रिसॉर्ट मालिक पुलकित और प्रबंधक सौरभ समेत सहायक प्रबंधक अंकित को गिरफ्तार किया तो रिसॉर्ट में चल रहे अनैतिक कार्यों से लेकर अंकिता हत्याकांड तक की गुथियां सुलझ गई।

Ankita Bhandari Murder Case
Ankita Bhandari Murder Case

Ankita Bhandari Murder Case

जांच में सामने आया कि तीनों आरोपी अंकिता पर ग्राहकों को खुश करने का दबाव डालते थे,जब अंकिता राजी नहीं हई तो उसने ये बात अपने एक दोस्त को बता दी,जब उन्हें अंकिता के रिसॉर्ट छोड़कर जाने की तैयारी का पता चला तो उन्होंने उसकी हत्या का षडयंत्र रच डाला।

18 सितंबर की रात पुलकित, सौरभ और अंकित ऋषिकेश घुमाने के बहाने अंकिता को साथ ले गए। अंकिता सौरभ  के साथ बाइक पर बैठी जबकि पुलकित और अंकित स्कूटी पर गए। ऋषिकेश में बैराज होते हुए चारों लोग एम्स के पास पहुंचे, वहां चारों में कुछ देर बात हुई और फिर वापस चले। वापसी में पुलकित ने अंकिता को स्कूटी पर बैठाया और सौरव व अंकित बाइक पर चले गए।

बैराज चौकी से कुछ आगे पहुंचने पर सभी लोग चीला नदी के पास रुक गए, पुलिस ने बताया कि यहां पुलकित सौरभ व अंकित ने शराब पी, इस दौरान पुलकित और अंकिता की रिसॉर्ट में अनैतिक कार्यों  को लेकर फिर विवाद हुआ।

Ankita Bhandari Murder Case :नहर में दो बार चिल्लाई मदद के लिए

विवाद के बाद पुलकित ने अंकिता को नहर में धक्का दे दिया। वहीं आरोपियों ने बताया कि नहर में गिरने के बाद अंकिता ने दो बार पानी के ऊपर आकर मदद के लिए चिल्लाई भी और बाहर आने का प्रयास किया, लेकिन कुछ देर बाद वो नहर में डूब गई।

ये भी पढ़ें : खुलासा : रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या मामले में भाजपा नेता का बेटा मुख्य आरोपी