अग्‍न‍िपथ योजना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन- कहीं हुई आग्जनी, तो कहीं सड़क की गई जाम

0
329
बिहार: अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन

दिल्ली, ब्यूरो : इधर सरकार ने सेना में भर्ती के लिए अग्‍न‍िपथ योजना अभी शुरू नहीं की बिहार, राजस्थान और यूपी में योजना के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन शुरू हो गया है। मंगलवार को जहां रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अग्‍न‍िपथ योजना की घोषणा की है वहीं आज इन राज्यों में जगह-जगह प्रदर्शन हो गया। बिहार में प्रदर्शनकारियों ने बक्सर में रेलवे ट्रैक जाम किया तो मुजफ्फरपुर के माड़ीपुर में आगजनी और सड़क जाम कर दी। साथ ही अलावा आरा में भी जमकर बवाल मचाया। प्रदर्शनकारी बस एक ही बात पर अड़े रहे कि योजना वापस ली जाए। ऐसा ही कुछ यूपी और राजस्थान में भी देखने को मिला। लेकिन सोचने वाली बात ये है कि शुरु होने से पहले ही आखिर क्यों अग्‍न‍िपथ योजना का विरोध हो रहा है।

क्यों हो रहा अग्‍न‍िपथ योजना का विरोध

बिहार की तरह ही यूपी के अंबेडकरनगर में बड़ी संख्या में युवाओं ने योजना का विरोध किया।तो राजस्थान के जयपुर में भी युवा सड़क पर उतर आए। लेकिन सवाल है कि शुरु होने से पहले ही आखिर क्यों अग्‍न‍िपथ योजना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन हो रहा है। तो बता दें कि प्रदर्शनकारियों का कहना है कि अग्निपथ योजना से सेना का ढांचा बिगड़ जाएगा। प्रदर्शनकारियों का कहना है, ‘नेता हो या विधायक, सभी को 5 साल का समय मिलता है लेकिन 4 साल में हमारा क्या होगा। हमारे पास पेंशन की भी सुविधा नहीं है। 4 साल बाद हम रोड पर आ जाएंगे। इसलिए प्रदर्शनकारियों की मांग है कि सेना में नियुक्ति की यह योजना रद्द की जाए। उधर बेगूसराय के प्रदर्शनकारियों की मांग है कि अग्निपथ योजना के तहत भर्ती प्रक्रिया रद्द हो और पुरानी भर्ती प्रक्रिया वापस हो। जिसमें आयु में दो साल की छूट दी जाए। ये भी पढ़े-कानपुर हिंसा में पत्थरबाजी के लिए किया बच्चों का इस्तेमाल, पैसे और बिरयानी बांटकर बच्चों को भड़काया  

बिहार: अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शन

बता दें कि मुजफ्फरपुर में आज सैकड़ों लोग लाठी-डंडा लेकर सड़क पर उतर गए और हंगामा करने लगे। सबसे पहले प्रदर्शनकारियों ने ARO (आर्मी रिक्रूटमेंट ऑफिस) पहुंचकर  विरोध जताया। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने माड़ीपुर में आगजनी कर रोड जाम कर दी। साथ ही सड़क के आसपास लगे बोर्ड और होर्डिंग को तोड़ने की कोशिश भी की। प्रदर्शनकारियों को समझाने के लिए सदर और काजी मोहम्मदपुर पुलिस मौके पर पहुंच गई। लेकिन प्रदर्शनकारी इस बात पर अड़े रहे कि जब तक सेना का कोई अधिकारी उन लोगों की समस्या नहीं सुनेंगा तब तक वो सड़क से नहीं हटेंगे। वहीं बक्सर में प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली कोलकाता रेलवे ट्रैक पर जाम कर दिया। इसी तरह बेगूसराय में भी हर-हर महादेव चौक पर NH-31 को पूरी तरीके से जाम कर दिया गया। ये भी पढ़े-पैगंबर पर टिप्पणी का मामला : मौलाना ने की मुसलमानों से जुटने की अपील, इस शहर में फिर से करेंगे प्रदर्शन