मानसून से पहले ही बारिश ने बढ़ाई चिंता, आफत में तीर्थ यात्रियों की जान

0
119

रुद्रप्रयाग, ब्यूरो :  केदारनाथ धाम में लगातार हो रही बारिश ने लोगों ने परेशानी बढ़ी दी है। आपको बता दें कि केदारनाथ,बदरीनाथ बर्फ की सफेद चादर में ढ़क चुका है।वहीं गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में भी सुबह से ही बारिश का दौर जारी है।दूसरी ओर केदारपुरी में हो रही बारिश और बर्फबारी ने ठंड बढ़ा दी है। जिस वजह से हाइपोथर्मिया के मामलों में भी बढ़ोतरी हो रही है।

Capture 22

केदारनाथ यात्रा के लिए जाना वाला पैदल मार्ग रामबाड़ा यात्रियों के लिए चुनौतीपूर्ण साबित हो रहा है। रामबाड़ा से रुद्रा प्वाइंट तक लगभग चार किलोमीटर की चढ़ाई है। वहीं अब तक केदारनाथ यात्रा में 27 यात्रियों की मौत दिल का दौरा पड़ने से हो चुकी है।

बारिश में दर्शनों के लिए लाइन में खड़े कई यात्री भीग रहे हैं, जिस वजह से वो हाइपोथर्मिया का शिकार हो रहे हैं। केदारनाथ में बीते एक हफ्ते में हाइपोथर्मिया के कई मामले सामने आए हैं। करीब 30 से 35 फीसदी मामले एक हफ्ते में बढ़े हैं। दूसरी ओर धाम में चारों तरफ कोहरा होने से कई यात्रियों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। तो कई यात्रियों को सीने में दर्द और कई को चक्कर आ रहे हैं।मौसम का ये बदला हुआ मिजाज अब कहीं न कहीं भोले के भक्तों पर भारी पड़ रहा है। केदारनाथ धाम में सुबह से दोपहर तक तापमान 20 से 24 डिग्री तक रहता है, लेकिन दोपहर बाद अचानक मौसम में बदलाव होने से पारा गिरकर 2 से 3 डिग्री तक पहुंच रहा है।

मानसून से पहले ही बारिश ने बढ़ाई चिंता, आफत में तीर्थ यात्रियों की जान