दिल्ली, ब्यूरो :  एक तरफ जहां देश के राज्यों में लोग भीषण गर्मी से परेशान हैं, तो वहीं करेल में मानसून समय से पहले ही आ गया है। बता दें कि केरल में मौसम विभाग की भविष्यवाणी बिलकुल सही साबित हुई है। समय से तीन दिन पहले ही केरल में मानसून ने दस्तक दे दी है। आपको बता दें कि मौसम विभाग ने पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी कि बंगाल की खाड़ी में आए चक्रवाती तूफान ‘आसनी’ ( Asani) के प्रभाव से इस बार केरल में मानसून समय से पहले ही पहुंच जाएगा। मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया था कि इस बार केरल में मानसून की एंट्री के साथ ही भारी बारिश हो सकती है।  मौसम विभाग ने बताया है कि केरल में मानसून के आने के बाद अब 29 मई से 1 जून तक भारी बारिश हो सकती है। इसी तरह लक्षद्वीप में 30 मई को भारी बारिश हो सकती है।

 

आपको बता दें कि मौसम विभाग ने अपनी भविष्यवाणी में ये जानकारी दी है कि केरल  में आज दक्षिणपश्चिमी मानसून पहुंच गया है। केरल में मानसून ने तय समय से तीन दिन पहले ही दस्तक दे दी है। जबकी इससे पहले केरल में मानसून के पहुंचने की तरीख 1 जून 2022 बताई गई थी। बता दें कि इस बार मानसून 16 मई 2022 को ही अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह पहुंच गया था। और चक्रवात के शेष प्रभाव के चलते मौसम विभाग ने इसके आगे बढ़ने के आसार जताए थे। मौसम विभाग के अनुसार केरल में मानसून आने के बाद अब जल्द कर्नाटक और महाराष्ट्र में भी मानसून आगे बढ़ेगा। मौसम विभाग ने बताया कि अगले 5 दिनों तक हीटवेव चलने के आसार नहीं है।

इस वक्त देश के कई राज्यों में भीषण गर्मी पड़ रही है।गर्मी में लोगों का जीन बेहाल हो गया है। लेकिन अब आसार हैं कि जल्द ही देशवासियों को इस भीषण गर्मी और लू से राहत मिल जाए। वैसे तो आमतौर पर केरल में मानसून 1 जून तक पहुंचता है। लेकिन इस बार 29 मई को ही मानसून ने केरल में अपनी दस्तक दे दी है। वहीं केरल में मानसून के आने से पहले ही कई इलाकों में झमाझम बारिश भी देखने को मिली थी।