Doppler Radar : सुरकंडा में इंस्टालेशन का काम पूरा, अब मिलेगी मौसम की ये सटीक जानकारी

0
144
Doppler Radar in Surkanda Tehri Uttarakhand

देहरादून, ब्यूरो। Doppler Radar in Surkanda Tehri Uttarakhand: उत्तराखंड के नई टिहरी जिले के सुरकंडा में मौसम विभाग भारत सरकार की ओर से डॉपलर राडार (Doppler Radar) स्थापित कर दिया गया है। कुछ दिनों बाद Doppler Radar से मौसम से संबंधित सटीक जानकारी मिलने की संभावना जताई जा रही है। Doppler Radar इंस्टॉलेशन का काम पूरा हो चुका है, लेकिन अभी Doppler Radar की विधिवत शुरुआत नहीं हो पाई है। सुरकंडा में ऑफिस और अन्य सेटअप समेत यहां मूलभूत सुविधाएं जुटाने में समय लग रहा है। जल्द ही यह Doppler Radar काम करना शुरू कर देगा।

Doppler Radar ऑटोमोशन मोड में यहां से होगा आपरेट

डाॅप्लर राडार (Doppler Radar) लगते ही सुरकंडा के आस-पास 100 किलोमीटर की हवाई रेंज में मौसम संबंधी सटीक डाटा मिलने लगेगा। राज्य मौसम केंद्र मोहकमपुर देहरादून से इसे ऑटोमोशन मोड में आपरेट किया जाएगा। यहां पर तीन सुरक्षा गार्ड के साथ ही दो मौसम विभाग के कर्मचारी देख-रेख के लिए तैनात किए जा चुके हैं। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि जल्द ही राडार शुरू होने जा रहा है। इसके शुरू होते ही मौसम की काफी सटीक जानकारियां और पूर्वानुमान जारी किए जा सकेंगे।

Doppler Radar in Surkanda Tehri Uttarakhand

सुरकंडा में ये कर्मचारी किये गए तैनात 

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि इस डाॅप्लर राडार (Doppler Radar) का अधिकांश काम ऑटोमोशन मोड पर होगा। देखभाल के लिए सुरकंडा में कुछ कर्मचारियों को जरूर तैनात कर दिया गया है। यहां पर 3 सुरक्षा गार्ड और मौसम विभाग के 2 कर्मचारी तैनात किए गए हैं। मौसम विज्ञान केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि सरकंडा में स्थापित किए गए आसपास के 100 किलोमीटर रेंज से संबंधित सटीक डाटा अब मिलने लगेगा। राडार के इंस्टालेशन का काम संबंधित कंपनी कर्मचारियों की ओर से पूरा किया जा चुका है। सुरकंडा में अभी पानी की व्यवस्था नहीं हो पाई है। इसके अलावा ऑफिस का सेटअप भी पूरी तरह तैयार नहीं हो पाया है।

Doppler Radar in Surkanda Tehri Uttarakhand

जल्द पूरा होगा ये काम, मिलेगी सटीक सूचना

जल्द ही कार्य पूरा हो जाएगा। इसके बाद यहां से सटीक जानकारी मिलने लगेगी। कई बार देखने में आया है कि मौसम विभाग की पूर्व सूचना के विपरीत मौसम का मिजाज होता है। आपदा जैसे हालात से पहले कोई भी अलर्ट विभाग की ओर से जारी नहीं किया जाता। अब यह Doppler Radar लगने से काफी कुछ सटीक जानकारी मौसम विभाग की ओर से मिलने लगेगी। इस राडार को ऑटोमोशन मोड में देहरादून के मोहकमपुर स्थित राज्य मौसम विज्ञान केंद्र ऑफिस से ऑपरेट किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Hotel Basant में पर्यटकों के कमरे में लगाया Hidden Camera, मालिक को 2 साल की सजा

यह भी पढ़ें: Gang Rape: 2 भाइयों ने कपड़े पहनते वक्त बनाया बहन का वीडियो, ऐसे किया मुंह काला