प्रदेश में मौसम का कहर, 181 सड़कें बंद, सिरोबगड़ फिर बना सर दर्द

0
260

देहरादून ब्यूरो- मानसून आते ही प्रदेश में इसका कहर देखने के मिल रहा है। मौसम विभाग ने 4 जुलाई तक कई जगहों पर अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं दूसरी ओर देखा जाये तो प्रदेश में कई सड़कें भारी बारिश के कारण बंद हो गई हैं। ऋषिकेश- बद्रीनाथ नेशनल हाईवे सिरोबगड़ के पास 30 घंटों से बंद पड़ा हुआ है। इस तरह से देखा जाये तो प्रदेश में अब तक 181 सड़कें भारी बारिश कारण बंद हो रखी हैं, जिससे आवाजाही के लिए लोगों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

उत्तराखंड में भारी बारिश के कारण 181 सड़के बंद हो रखी हैं। गुरूवार को हुई बारिश के कारण एक नेशनल हाईवे, 22 स्टेट हाईवे और 8 मुख्य मार्ग बंद हो गये हैं, इसके अलावा संपर्क मार्ग भी बंद हो गये हैं। इससे पहले प्रदेश में 117 सड़के बंद हो रखी थी। प्रशासन का कहना है कि इन मार्गों को खुलाने के लिए 289 जेसीबी मशीनों को तैनात किया गया है। इन बंद पड़े मार्गों की बात करें तो एनएच 58 कल्यासौड़ से खांकरा के बीच सिरोबगड़ में बंद है। प्रशासन यहां पर वैक्लपिक मार्गों से यात्रा सुचारू कर रहा है। इसके अलावा थराली- वाण मोटर मार्ग, ग्वाल्मद- नंद केशरी, आदिबद्री- नौटी, खिर्सू- खांकरा, मयाली- गुप्तकाशी, गुप्तकाशी- कालीमठ- चौमासी, बांसवाड़ा- मोहनखाल, मक्कू- भीरी, घट्टूघाट- बीरोंखाल, कर्णप्रयाग- नौटी, नरेंद्रनगर- रानीपोखरी मार्ग और लोहाघाट- सिमलखेत मार्ग बंद हो रखे हैं। कुमाऊं मंडल की बात करें तो पिथौरागढ़ में नदी उफान पर है। ग्राम खुमती कालिका गाड़ में चार स्थाई लकड़ी के पुल बह गए हैं। जबकी कलिका खुमती सड़क भी तीन दिनों से बंद है। यहां लोगों को जान जोखिम में डालकर 15 से 20 किलोमीटर पैदल यात्रा करनी पड़ रही है।