लड़खड़ाते हुए जा रहे बाइक सवार नशेड़ियों को नसीहत देने वाले पुलिसकर्मियों की धुनाई, ट्रांसफर करवाने की दी धमकी

  • नशेड़ियों को नसीहत देना पुलिस वालों को पड़ा भारी, लात-घूसों के साथ ही थप्पड़ जड़ा

हल्द्वानी, ब्यूरो। उत्तरखंड की मित्र पुलिस के दो जवानों को कल देर रात दो नशेड़ी युवकों को समझाना भारी पड़ गया। नशे में धुत दो बाइक सवार लड़खड़ाते हुए सड़क पर चल रहे थे। पुलिस ने समझाया और नसीहत दी तो दोनों पुलिस वालों पर ही टूट पड़े और लात-घूसों से जमकर पिटाई कर दी। यही नहीं एक पुलिसकर्मी की वर्दी तक फाड़ दी गई। पुलिस के अन्य जवान सूचना के बाद मौके पर पहुंचे और आरोपियों को मेडिकल करवाने अस्पताल ले गए। इस दौरान भी एक नशेड़ी युवक ने पुलिसकर्मी के थप्पड़ जड़ दिया। किसी तरह दोनों आरोपियों को पुलिस ने काबू किया और थाने लाकर विभिन्न सुसंगत धाराओं में केस दर्ज कर आरोपियों को जेल भेज दिया है।

काठगोदाम थाना प्रभारी प्रमोद पाठक से मिली जानकारी के अनुसार 15 मई रविवार की रात कांस्टेबल नीरज शर्मा और एक होमगार्ड हाइडिल तिराहा के पास गश्त कर रहे थे। यहां दो बाइक सवार युवक नशे में धुत लड़खड़ाते हुए जा रहे थे। कांस्टेबल ने उन्हें समझाने का प्रयास किया तो दोनों भड़क गए और गाली-गलौज और मारपीट पर उतारू हो गए। कांस्टेबल ने इसकी सूचना अन्य पुलिस कर्मियों को दी। इसके बाद एसआई भुवन सिंह राणा, कांस्टेबल अरविंद, योगेश व होमगार्ड विवेक मौके पर पहुंचे तो दोनों युवक उन पर भी भारी पड़ गए। पूछताछ में आरोपितों ने अपना नाम शिवपुरी दमुवाढूंगा निवासी हीरा सिंह व बगवाली पोखर रानीखेत अल्मोड़ा निवासी तारा चंद्र बताया। हीरा सिंह ने कांस्टेबल अरविंद कार्की के घूसे मारकर धक्का दिया और कालर पकड़कर वर्दी भी फाड़ दी। कांस्टेबल के कालर में लगे ब्लूटूथ को भी आरोपी नशेड़ी ने तोड़ दिया। दूसरे व्यक्ति ताराचंद्र ने कांस्टेबल नीरज शर्मा को लात घुसों से मारपीट कर धक्का दिया और सुबह ही ट्रांसफर कराने की धमकी दी। बेस अस्पताल में मेडिकल के लिए ले जाने पर आरोपित ने कांस्टेबल नीरज को थप्पड़ जड़ दिए। थाना प्रभारी प्रमोद पाठक ने बताया कि दोनों आरोपितों पर मारपीट, गालीगलौज, वर्दी फाड़ने, सरकारी कार्य में बांधा डालने आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।