लापता महिला का शव पेड़ से लटका मिला, मार कर लटकाया? सिर से बह रहा खून; आँख में चोट!

0
290

नई टिहरी (पंकज भट्ट): टिहरी जनपद के तहसील बालगंगा के पट्टी केमर स्थित मयकोट गांव में एक महिला का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ पर फांसी लगाकर मौत का मामला सामने आया है। मामले में मृतका के मायके पक्ष ने उसके पति समेत अन्य लोगों पर हत्या के गंभीर आरोप लगाए हैं। इतना ही नहीं मृतका के मायके पक्ष का आरोप यह भी है कि मृतक महिला के ससुराल पक्ष द्वारा मृतक महिला का शव बिना मायके पक्ष की उपस्थिति में फांसी से निकालकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर मोर्चरी में रखने के लिए ले गए।
वहीं, फिलहाल महिला के मायके पक्ष इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं।

mahila murder

लापता महिला का शव पेड़ से लटका मिला, मार कर लटकाया? सिर से बह रहा खून; आँख में चोट!

mahila ki hatya

  • 28 साल की विवाहिता की संदिग्धावस्था में मौत, मायके पक्ष ने लगाए ये गंभीर आरोप
  • लापता महिला का शव पेड़ से लटका मिला, मार कर लटकाया? सिर से बह रहा खून; आँख में चोट!

टिहरी के बालगंगा तहसील के मयकोट गांव के जंगल मे पैयापानी नामक तोक में एक महिला का शव संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ पर फंदा से लटका मिला। मृतक महिला की पहचान रजनी देवी पत्नी हेमंत लाल (28), निवासी मयकोट के रूप में हुई है। मायके पक्ष के अनुसार बताया जा रहा है कि मृतक महिला विगत 10 जुलाई से घर से गायब थी और विगत सोमवार को महिला का शव गांव से कुछ ही दूर जंगल में पैयापानी नामक तोक में संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ से लटका मिला। जिसके बाद मृतक महिला के ससुराल पक्ष द्वारा राजस्व पुलिस को सूचना देकर इस शव को निकाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर लाया गया। मृतक महिला के ससुर शिव चरण ने बताया हमें रजनी की डेड बॉडी गांव के नजदीक गदेरे में फंदे पर लटकी मिली। मृतक महिला के ससुर मीडिया के सवालों से बच रहे थे।

sunita

दूसरी ओर मायके पक्ष से मृतक महिला के पिता किशोरी लाल ने आरोप लगाते हुए कहा कि उसके ससुराल वाले पहले से ही परेशान करते‌ थे। कहा कि कोई भी व्यक्ति स्पष्ट देख सकता है कि डेड बॉडी के सिर से खून निकल रहा है जबकि आंख में भी चोट लगी है। पिता किशोरी लाल ने कहा ससुराल पक्ष के लोगों ने प्रशासन को पैसे दे दिए हैं। जिस कारण प्रशासन हमारी तहरीर लेने में काफी आना कानी कर रहा है।

sunita ka bhai

लड़की के भाई आका‍श ने कहा कि ये आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है जो स्पष्ट तौर पर देखा जा सकता है। उन्होंने मायके पक्ष और प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाया कि ये लोग रजनी की डेड बॉडी को भी गुम करने के फिराक में थे। क्योंकि इन लोगो ने रजनी को दो दिन पहले मार दिया था और दो दिन बाद हमें सूचना दी जबकि हमने सूचना मिलने पर हमने कहा था कि फंदे से तब तक शव मत निकालना जब तक हम लोग वहां नहीं पहुंचते। लेकिन, ससुराल और प्रशासन की मिलीभगत से इन लोगों ने शव को आनन फानन में पैक करके बेलेश्वर अस्पताल में छोड़ कर भाग गए ।

WhatsApp Image 2022 07 12 at 2.46.54 PM

लड़की की मां सुनीता देवी ने बताया कि रजनी के ससुराल वाले उसके साथ हर गलत हरकतें करते थे जो नहीं करनी चाहिए थी जबकि हम हर बार रजनी को समझा बुझा कर चुप करा लेते थे, लेकिन इस बार इन लोगों ने हमेशा के लिए रजनी का मुंह बंद करा दिया। जबकि उन्होंने तहसील प्रशासन पर आरोप लगाया कि हम लोग सुबह से तहरीर देने के लिए तहसील गए थे, लेकिन वहां किसी ने भी हमारी नहीं सुनी। उन्होंने ससुर शिव चरण और अन्य लोगों पर आरोप लगाया कि इन लोगों ने ही अपनी बहू को मारा है।

tahsildar

वहीं, इस मामले में तहसीलदार लक्ष्मण सिंह नेगी ने कहा कि तहसील प्रशासन को जैसे ही घटना के बारे में जानकारी मिली हम मौके के लिए रवाना हो गए थे जबकि प्रथम दृष्टया देखकर लग रहा है कि ये आत्महत्या है। जबकि पूरी जांच पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चलेगी। डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए नई टिहरी भेजा गया है।

मामला राजस्व क्षेत्र से जुड़ा हुआ है फिलहाल मामले की जांच राजस्व विभाग की टीम कर रही है। जिससे जांच के उपरांत ही मामले की सच्चाई का पता लग पाएगा। मृतक महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल बौराड़ी भेजा गया है। महिला की मौत के बाद मायके पक्ष के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। उन्होंने प्रशासन से न्याय की गुहार लगाई है और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है।