काशीपुर/रुद्रपुर, ब्यूरो। काशीपुर में एक भांजे ने ही अपने मामा की बेरहमी से हत्या कर दी और फरार हो गया। मृतक के भाई ने पुलिस को तहरीर देकर आरोपी भांजे को अरेस्ट करने के साथ भाई के हत्यारे को सलाखों के पीछे करने की गुहार लगाई गई। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस अधीक्षक और सीओ काशीपुर के निर्देशन में एक पुलिस टीम का गठन किया। इस टीम ने सीसीटीवी कैमरों की निगरारी के साथ ही मुखबिर आदि माध्यमों से मामले की खुफिया जानकारी ली। थाने में मर्डर केस दर्ज होने के मात्र दो घंटे में पुलिस ने आरोपी भांजे को अरेस्ट कर लिया है।

आरोपी सौरभ को गिरफ्तार करने के बाद उससे पूछताछ की गई तो उसने स्वीकार किया कि उसने ही अपने मामा बृजमोहन को पत्थर-डंडो से सिर कुचलने के बाद गला दबाकर हत्या कर दी थी। आरोपी ने पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद सारी कहानी बयां कर दी।

बता दें कि विगत शनिवार 21 मार्च 2022 को बुद्धा सिंह निवासी गोपीपुरा थाना काशीपुर जनपद ऊधम सिंह नगर ने काशीपुर थाने में तहरीर सूचना दी कि उसके भाई बृजमोहन को उसके भांजे सौरभ ने पत्थर व डंडों से सर कुचल कर व गला दबाकर हत्या कर दी है। वादी की तहरीर के आधार पर थाना काशीपुर में एफआईआर नंबर 279ध् 2022 धारा 302 आईपीसी का अभियोग पंजीकृत किया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उधम सिंह नगर के निर्देश पर घटना का तत्काल अनावरण किए जाने को पुलिस अधीक्षक काशीपुर एवं क्षेत्राधिकारी काशीपुर के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक काशीपुर की अध्यक्षता में टीम का गठन किया गया। गठित टीम द्वारा सुरागरसी पतारसी एवं सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन करने पश्चात हत्या अभियोग पंजीकृत होने के मात्र 2 घंटे के भीतर अनावरण कर घटना में सलिप्त प्रीत कौर वह सौरव को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया जिसमें जनता द्वारा भूरी भूरी प्रशंसा की गई तथा त्वरित अनावरण करने के लिए उत्साहवर्धन हेतु पुलिस टीम को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा ₹5000 नकद पारितोषिक की घोषणा की गई।