“पहली बार राजस्व कर्मचारी बुझा रहे जंगल की आग, अनटाइट फंड हो रहा जारी”

0
203

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर सुभाष रोड स्थित महिला सशक्तिकरण और बाल विकास की तरफ से कार्यक्रम

देहरादून, ब्यूरो। रविवार को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के मौके पर सुभाष रोड स्थित महिला सशक्तिकरण और बाल विकास की तरफ से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में प्रदेश के वन मंत्री सुबोध उनियाल पहुंचे और महिलाओं के सर्वांगीण विकास पर बल दिया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कोई भी कोई भी ध्येय तब तक संभव नहीं हो सकता जब तक महिलाएं संपन्न ना हो जाएं। क्योंकि मानव जीवन में महिला और पुरुष का मजबूत होना ही संपूर्णता की प्राप्ति कही जा सकती है। अन्यथा कोई भी पक्ष कमजोर रहा तो संपूर्णता की प्राप्ति नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि पंचायती राज में जब से महिला आरक्षण हुआ तब से इस क्षेत्र में शिक्षित महिलाएं सामने आ रही हैं, सुबोध उनियाल का कहना है कि शिक्षित महिलाओं में काम करने की लगन ज्यादा होती है, जो का फायदा निश्चित रूप से मिल रहा है।

subodh000

इधर, प्रदेश के जंगल वनाग्नि के कारण धू-धू कर जल रहे हैं, पर्वतीय जिलों से रोजाना वनों में आग लगने की घटनाएं सामने आ रही है। ऐसे में वन मंत्री सुबोध उनियाल ने साफ किया है कि जंगलों को आग से बचाने के लिए सरकार पूरी तरह से प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि आग काफी हद तक कंट्रोल में हुई है और सरकार ने पहली बार जिलाधिकारी को भी वनाग्नि की घटनाओं को रोकने के लिए इन्वॉल्व किया है और उन्हें बताया है कि सभी जिला अधिकारी डीएफओ के साथ तालमेल बैठा कर आग लगने की घटनाओं पर अंकुश लगाएं। उन्होंने बताया कि सरकार ने पहली बार रेवेन्यू के कर्मचारियों को भी वनाग्नि को रोकने के लिए लगाया गया है। इस बार वनों में आज की घटनाएं रोकने के लिए जिलाधिकारी के अनटाइट फंड से भी तत्कालिक आवश्यकताएं पूरी करने को कहा गया है। सुबोध उनियाल ने कहा कि जिन क्षेत्रों में फॉरेस्ट फायर के केसेस कम हैं। उन क्षेत्रों के रेंज अधिकारियों को भी आग बुझाने के काम में लगाया गया है, ताकि समुचित तादाद में कर्मचारियों और अधिकारियों के रहते हुए आग पर नियंत्रण पाया जा सके।

subodh u

बता दें कि पिछले कई दिनों से उत्तराखंड के जंगलों को आग ने घेर रखा है तो वहीं प्रदेश के जंगलों में लगातार आग की घटनाएं बढ़ रही है। करीब 53000 वर्ग किलोमीटर में फैले हुए हिमालय राज्य उत्तराखंड प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी जंगल में लग रही आग की घटनाओं से जूझ रहा है। ऐसे में वन मंत्री सुबोध उनियाल ने साफ किया है कि सरकार जंगलों की आग को लेकर गंभीर है और वनों में लगी आग को काफी हद तक नियंत्रित किया गया है।