इस अंग्रेजी शराब की दुकान पर भी उड़ रही थी नियमों की धज्जियां, काटा ₹50000 का चालान

0
222
इस अंग्रेजी शराब की दुकान पर भी उड़ रही थी नियमों की धज्जियां, काटा ₹50000 का चालान

देहरादून, ब्यूरो। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में डीएम के निर्देश पर लगातार आबकारी विभाग कार्रवाई कर रहा है। विगत दिनों कई दुकानों के भारी-भरकम चालान काटे गए हैं। इतनी सख्ती और एक लाख रुपए से ज्यादा के चालान कटने के बाद भी आबकारी विभाग के नियम-कानूनों का पालन करने से शराब ठेके वाले बाज नहीं आ रही हैं। ऐसे ही कई अनियमितताओं को देखते हुए कल देर रात आबकारी विभाग ने कांवली रोड स्थित शराब के ठेके पर औचक निरीक्षण किया। इस दौरान ‘यहां पर शराब की ओवर रेटिंग नहीं की जाती है’ का बैनर भी नहीं मिला और स्टाॅक रजिस्टर में भी हेर-फेर की बात सामने आई है। इसे देखते हुए आबाकारी विभाग ने कड़ी हिदायत और ₹50000 रुपए का दुकान का चालान काटा है।

इस अंग्रेजी शराब की दुकान पर भी उड़ रही थी नियमों की धज्जियां, काटा ₹50000 का चालान

इस अंग्रेजी शराब की दुकान पर भी उड़ रही थी नियमों की धज्जियां, काटा ₹50000 का चालान

बता दें कि देहरादून में डीएम के निर्देश के बाद सभी शराब के ठेकों पर ओवर रेटिंग नहीं होने के बैनर लगाने के निर्देश दिए हैं। पिछले दिनों दून की एक दुकान का एक नहीं दो-दो बार चालान काटा गया। पहली बार दस हजार और दूसरी बार एक लाख रुपये का भारी भरकम चालान बैनर न लगाने पर हुआ था। वहीं, दो दिन पहले एक और शराब की दुकान पर यह बैनर मोड़ा हुआ पाया गया। इस पर आबकारी विभाग की टीम ने दुकान का दस हजार का चालान काटा है। यह दुकान देहरादून के पटेलनगर इलाके में मौजूद है। जबकि शनिवार रात कांवली रोड के अंग्रेजी शराब ठेके पर भी ऐसी ही कई अनियमितताएं मिलने पर शराब दुकान का ₹50000 रुपए का भारी-भरकम चालान काटा गया है।

इस अंग्रेजी शराब की दुकान पर भी उड़ रही थी नियमों की धज्जियां, काटा ₹50000 का चालान

जिलाधिकारी डाॅ0 आर राजेश कुमार ने विभिन्न माध्यमों से प्राप्त हो रही शराब की ओवर रेटिंग की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए जिला आबकारी अधिकारी को जनपद अवस्थित शराब की दुकानों में ‘यहाँ पर ओवर रेटिंग नहीं की जाती है,‘ का बैनर/फ्लैक्स लगाने तथा शराब की ओवर रेटिंग करने व बैनर पोस्टर चस्पा न करने वाली दुकानों पर अर्थदण्ड की कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए थे। डीएम देहरादून ने अवगत कराया कि शराब की ओवर रेटिंग न हो इसके लिए आबकारी विभाग को नियमित निरीक्षण करने के निर्देश दिए गए हैं तथा अनियमितता पाए जाने पर कार्यवाही करने तथा बार-बार इसकी पुनरावृत्ति होने पर निर्धारित प्राविधानों के अन्तर्गत सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।