UP CM योगी से मिले सिंगापुर के उच्चायुक्त साइमन वाॅन्ग, बोले-‘‘उत्तर प्रदेश मुझे अपना घर जैसा लगा’’

0
237

सिंगापुर के उद्योगपतियों ने यूपी में किया 250 मीलियन डाॅलर का निवेश, सीएम योगी से मिले उच्चायुक्त वाॅन्ग ने रखे अब ये प्रस्ताव

लखनऊ, ब्यूरो। एक दिन पहले ही जहां इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुलाकात की थी। इस दौरान इजरायल का एक सरकारी प्रतिनिधिमंडल भी साथ था। वहीं, आज सिंगापुर के उच्चायुक्त साइमन वाॅन्ग ने शिष्टाचार भेंट की। उन्होंने शिष्टाचार भेंट के दौरान कि मुझे यह कहने में कोई अतिशयोक्ति नहीं लगती कि सीएम योगी से भेंट के बाद उत्तर प्रदेश में मुझे अपना दूसरा घर जैसा लगता है। इस दौरान उन्होंने उत्तर प्रदेश और सिंगापुर सरकार के बीच तमाम विकास की योजनाओं के साथ ही नई तकनीक और निवेशकों को नोएडा के साथ ही अब लखनऊ और अन्य क्षेत्रों में करने पर भी जोर दिया।

vang and cm yogi

उच्चायुक्त साइमन वाॅन्ग ने शिष्टाचार भेंट के दौरान कहा कि उन्हें यह कहने में कोई अतिशयोक्ति नहीं लगती कि मुख्यमंत्री योगी से भेंट के बाद उत्तर प्रदेश मुझे अपना दूसरा घर जैसा लगता है। सितंबर 2021 से अब तक सिंगापुर के प्रतिनिधिमंडल ने कई बार इन्वेस्ट यूपी के अधिकारियों से भेंट की है। हमें जानकारी मिली है कि उत्तर प्रदेश आगामी वर्ष ग्लोबल इन्वेस्टर समिट का आयोजन कर रहा है। हम चाहते हैं कि आप हमारी कंपनियों को इसमें आमंत्रित करें। उत्तर प्रदेश की कंपनियों का सिंगापुर में स्वागत है। यदि मुख्यमंत्री की सहमति हो तो सिंगापुर को उत्तर प्रदेश के ग्लोबल इन्वेस्टर समिट का फर्स्ट पार्टनर कंट्री बनने में प्रसन्नता होगी।

वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश अपने निवेशकों की आवश्यकताओं का पूरा ध्यान रखता है। हमारी उद्योग अनुकूल नीतियों से प्रदेश का औद्योगिक माहौल बदला है। उद्योग जगत की जरूरतों के अनुसार 21 सेक्टोरल पॉलिसीज तैयार की गई हैं। राज्य सरकार प्रधानमंत्री मोदी जी के विजन के अनुरूप औद्योगिक विकास के लिए उद्यमियों को सभी जरूरी संसाधन उपलब्ध कराने को तत्पर है तथा अगले वर्ष प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर समिट में सिंगापुर को पार्टनर कंट्री बनाने में खुशी होगी।

साथ ही इस दौरान सिंगापुर के उच्चायुक्त वाॅन्ग ने बताया कि सिंगापुर की विभिन्न कंपनियों ने उत्तर प्रदेश में 250 मिलियन यूएस डॉलर का निवेश किया है। अधिकांश निवेश नोएडा और आस पास के क्षेत्रों में हैं। अब हम निवेशकों को लखनऊ सहित प्रदेश के दूसरे इलाकों में निवेश के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। उच्चायुक्त ने कहा कि हमें जानकारी मिली कि उत्तर प्रदेश स्किल यूनिवर्सिटी की स्थापना होने जा रही है। हम इसमें सभी तरह के जरूरी सहयोग करने के लिए तैयार हैं।