अंकिता हत्याकांड: रिसॉर्ट में बुलडोजर चलवाने पर बढ़ सकती है विधायक रेनू बिष्ट की मुश्किलें

0
271
Ankita Murder Case Update:

Uttarakhand News: Ankita Murder Case Update: भाजपा विधायक रेनू बिष्ट की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है। नैनीताल हाईकोर्ट में अंकिता भंडारी हत्याकांड की सीबीआई जांच को लेकर सुनवाई हुई। जिसमें नैनीताल हाईकोर्ट ने एसआईटी से केस डायरी दाखिल करने को कहा है।

Ankita Murder Case Update: हाईकोर्ट में हुई मामले की सुनवाई

Ankita Murder Case Update:

अंकिता हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग को लेकर पौड़ी गढ़वाल निवासी अशुतोष नेगी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है (Ankita Murder Case Update)। इस याचिका पर नैनीताल हाईकोर्ट में न्यायमूर्ति संजय कुमार मिश्रा की एकलपीठ सुनवाई हुई। जिसमें हाईकोर्ट ने अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर अब तक की कार्रवाई को लेकर केस डायरी देने और साथ में स्टेटस रिपोर्ट भी दाखिल करने को कहा गया है। अब मामले की अगली सुनवाई तीन नंबर को होगी।

Ankita Murder Case Update: याचिका में रेनू बिष्ट पर गंभीर आरोप

Ankita Murder Case Update:

आशुतोष नेगी ने अपनी याचिका में गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि हत्याकांड के सबूत मिटाने के लिए यमकेश्वर विधायक रेनू बिष्ट के निर्देश पर वनअंतरा रिजॉर्ट में बुलडोजर चलवाया गया था। रिजॉर्ट में अंकिता के कमरे की चादर तक गायब कर देने की बात भी कही गई है। इन आरोपों को लेकर मामले की सीबीआई जांच की मांग की गई है। ऐसे में साफ है कि सबूत को मिटाने के आरोप में रेनू बिष्ट की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

Ankita Murder Case Update: पोस्टमार्टम के समय रेनू बिष्ट का हुआ विरोध

Ankita Murder Case Update:

अंकिता भंडारी की हत्या के बाद जब पुलिस को चीला बैराज से अंकिता का शव मिला था तो उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स ऋषिकेश लाया गया था। पोस्टमार्टम के समय रेनू बिष्ट के एम्स पहुंचने पर उनका भारी विरोध हुआ था। यहां तक कि उनकी कार के शीशे को तोड़ दिया गया था, तब विरोध बढ़ते देख उन्हें वहां से लौटना पड़ा था।

Door To Hell: 19 साल तक खुदाई करने के बाद क्यों वैज्ञानिकों ने अचानक बंद किया काम