दर्दनाक हादसा-40 सवारियों से भरी नाव यमुना में पलटी, 2 की मौत; 20 से ज्यादा लापता

0
289

नाव पलटते ही मौके पर मची चीख-पुकार, सीएम योगी ने जताया दुःख, पीड़ितों की हरसंभव मदद के दिए निर्देश

लखनऊ, ब्यूरो। आज रक्षाबंधन पर्व के मौके पर उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में यमुना नदी में 40 सवारियों से भरी नाव पलट गई। यह नाव फतेहपुर से मारका की ओर जा रही थी। नाव पलटते ही मौके पर सवार यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। सूचना के बाद पहुंची पुलिस, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के साथ ही स्थानीय लोग गोताखोरों की मदद से नाव पलटने के बाद डूबे लोगों को डूबने से बचाने में जुटी हुई है। अभी तक दो लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। जबकि 20 से ज्यादा लोगों का कोई सुराग नहीं लगा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे को लेकर गहरा दुःख जताने के साथ जिला प्रशासन, पुलिस और एसडीआरएफ-एनडीआरएफ को मौके पर जल्द से जल्द और अधिक से अधिक लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के निर्देश दिए हैं।

nav palti
 

बता दें कि आज गुरुवार को उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के थाना मरका इलाके में फतेहपुर से मरका की ओर जा रही 40 सवारियों से भरी नाव अचानक पलट गई। इसके बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई। पुलिस को किसी तरह स्थानीय लोगों ने सूचना दी। सूचना के बाद पहुंचे पुलिस अधीक्षक बांदा के साथ ही गोताखोरों की बड़ी टीम यमुना नदी में डूबे लोगों को बचाने में जुट गई। मौके पर राहत और बचाव कार्य अभी भी जारी है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को सुरक्षित निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं। अभी तक दो लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, यह संख्या अभी बढ़ सकती हैं। सूत्रों के अनुसार 20 से ज्यादा लोगों कोई सुराग नहीं लग पाया है। नाव में 40 सवार लोगों में से डेढ़ दर्जन से अधिक बचाने की सूचना है। दूसरी ओर इस हादसे को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बांदा जिला प्रशासन को हरसंभव पीड़ित लोगों की मदद करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस हादसे पर गहरा शोक जताते हुए बांदा जिलाधिकारी, डीआईजी, एनडीआरफ, एसडीआरएफ समेत सभी बचाव दलों को तत्काल लोगों से यमुना नदी से सकुशल रेस्क्यू करने के निर्देश दिए हैं।