पुलिस सिपाही का लेटर बम, अधिकारियों में हड़कंप, खड़े किये कई सवाल

0
681
Uttarakhand Police

Uttarakhand News: Uttarakhand Police: उत्तराखंड की राजनीति में नेता अक्सर लेटर बम फोड़ते नजर आ जाते हैं। लेकिन इस बार अपने अनुशासन की मिसाल पेश करने वाले उत्तराखंड पुलिस के एक सिपाही के लेटर बम ने अधिकारियों के होश उड़ा दिये हैं। ऊधम सिंह नगर में तैनात इस सिपाही ने अधिकारियों पर शोषण का आरोप लगाते हुए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के मांग की है।

Uttarakhand Police: 1998 बैच का है सिपाही

Uttarakhand Police

ऊधम सिंह नगर में 1998 बैच के एक सिपाही मनोज कुमार का लेटर सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। इस में सिपाही ने एसएसपी को लेटर लिखा है और कहा कि राज्य बनने से पहले ही वह निरंतर अपनी सेवाएं दे रहा है। उत्तराखंड बने 22 साल बीत गये हैं लेकिन इन 22 सालों में उसे कोई भी विभागीय प्रमोशन नहीं दिया गया। साथ ही उसका शोषण तक किया जा रहा है।

Uttarakhand Police: विभाग पर किये कई सवाल खड़े

Uttarakhand Police

इस सिपाही का कहना है कि यहां अधिकारी छोटे कर्मचारियों का शोषण कर रहे हैं। जिन की राजनीति में अच्छी पकड़ है उन्हें तो मनचाही पोस्टिंग मिल जाती है। इसका यह भी कहना है कि वह पिछले चार साल से लगातार नाइट ड्यूटी कर रहा है। इन्हीं कारणों से सिपाही अपने विभाग से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति मांग रहा है।

Uttarakhand Police: लेटर बम से अधिकारियों में हड़कंप

Uttarakhand Police

इस लेटर का देवभूमि न्यूज पुष्टि नहीं करता है लेकिन लेटर में सिपाही ने अपने नाम के साथ बैच नंबर भी दिया है। इसलिए यह मामला ज्यादा गंभीर हो जाता है। इस लेटर से पुलिस विभाग के अधिकारियों के बीच खलबली जरूर मच गई है। साथ ही सिपाही के समर्थन में कई अधिकारी और सिपाही भी बताये जा रहे हैं। अब देखना यह होगा कि विभाग सिपाही पर कार्रवाई करती है या फिर उसे स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति देती है।

ये भी पढ़ें…

उत्तराखंड  के  कैंची धाम पहुंचे  विराट-अनुष्का, नीब करौरी बाबा का लिया आशीर्वाद