देहरादून ( त्रिपुरारी मिश्रा )  : देहरादून पुलिस को पिछले कुछ दिनों से मसूरी में ऑनलाइन नंबरों से अनैतिक व्यापार की शिकायत मिल रही थी। जिसका तत्काल संज्ञान लेते हुए  AHTU और एसओजी की टीम ने संयुक्त रुप से कार्रवाई करते हुए ऑनलाइन सेक्स रैकेट की जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। AHTU टीम द्वारा गोपनीय जांच कर मसूरी क्षेत्र में ऑनलाइन अनैतिक व्यापार में संलिप्त लोगों की जानकारी ली गई। जिसमें पता चला कि हरियाणा के कुछ लोग स्पा सर्विस के नाम पर मसूरी में अलग-अलग जगह अनैतिक व्यापार कर रहे थे। आरोपी देह व्यापार के लिए बाहरी राज्यों से महिलाओं को मसूरी लाते थे। और फिर व्हाट्सऐप और अन्य सोशॉल मीडिया के माध्यम से लोगों को लड़कियों की फोटे भेजते थे।

पुलिस ने मसूरी क्षेत्र में ऑनलाईन स्पा सर्विस चलाने वाले गिरोह के लोगों गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पकड़े गए आरोपियों में तीन पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। उक्त अपराधियों से पुलिस ने एक स्विफ्ट और ब्रिजा कार बरामद की है। इन दोनों कारों का इस्तेमाल देह व्यापार में संलिप्त महिलाओं को लाने और छोड़ने में किया जाता था।

पूछताछ में गिरोह के सरगना किशन उर्फ सोनू ने बताया कि लॉकडाउन से पहले वो मसूरी के होटल में काम करता था। लेकिन लॉकडाउन लगने पर वो अपने घर हरियाणा चला गया। और पिछले महीने ही वापस मसूरी आकर उसने स्पा सर्विस के नाम पर सेक्स रैकेट चलाना शुरू किया। जिसके लिए उसने ऑनलाइन टेलिफोनिक साइट्स पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया। आरोपी ने बताया कि इसस पहले भी उसने दिल्ली समेत अन्य राज्यों में अनैतिक व्यापार किया है।

आरोपी किशन ने बताया कि वो व्हाट्सऐप और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से बाहरी राज्य से आने वाले पर्यटकों को लड़कियों की फोटो भेजता था। और फिर ऑनलाइन पेमेंट लेकर मसूरी के अलग-अलग स्थानों पर उन्हे महिलाएं उपलब्ध कराता था। आरोपी ने बताया कि इस कार्य के लिए वो अलग-अलग राज्यों से महिलाओं को बुलाता था।