देहरादून/लखनऊ, ब्यूरो। राज्यसभा की 57 सीटों के लिए देशभर में नामांकन प्रक्रिया चल रही है। जून माह के दूसरे सप्ताह में राज्यसभा सदस्यों के लिए विधानसभाओं में वोटिंग होगी। इसके बाद चयनित नेता को राज्यसभा सदस्य बनाया जाएगा। उत्तराखंड में जहां एक ही सीट के लिए चुनाव होना है, वहीं उत्तर प्रदेश में 11 राज्यसभा सीटों के लिए भाजपा के प्रत्यशियों ने आज नामांकन किया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई भाजपा के प्रमुख नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे। इसके अलावा देहरादून में विधानसभा भवन में भाजपा की प्रत्याशी डाॅ. कल्पना सैनी ने भी नामांकन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत कई वरिष्ठ नेता, मंत्री और सांसद भी मौजूद रहे। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने राज्यसभा के लिए राधामोहन दास अग्रवाल, लक्ष्मीकांत वाजपेयी, संगीता यादव, दर्शना सिंह, बाबू राम निषाद, सुरेंद्र सिंह नागर, मिथिलेश कुमार और डॉ. के लक्ष्मण को उम्मीदवार बनाया है।

उत्तराखंड में जहां भाजपा की प्रत्याशी का राज्यसभा जाना लगभग तय है। यहां कांग्रेस के विधानसभा में सदस्य काफी कम हैं। कांग्रेस ने अपना कोई प्रत्याशी भी इस चुनाव के लिए घोषित नहीं किया है। वहीं, यूपी में भाजपा के आठ और सपा के दो प्रत्याशी राज्यसभा पहुंच सकते हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में भाजपा और उसके सहयोगी दलों के 273 और सपा और उसके सहयोगी दलों के 125 विधायक हैं। जनसत्ता दल लोकतांत्रिक और कांग्रेस के दो-दो तथा बसपा का एक ही विधायक है। जनसत्ता दल के दो विधायकों का समर्थन भाजपा को मिल सकता है। जबकि कांग्रेस और बसपा का किसी भी दल से गठबंधन नहीं होने से दोनों दल चुनाव से बाहर रह सकते है।