कॉमनवेल्थ गेम्स बैडमिंटन एकल वर्ग के फाइनल में लक्ष्य सेन और पीवी सिंधु, जगी गोल्ड की उम्मीद

0
165

देहरादून, ब्यूरो। कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के खिलाड़ी लगातार शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने प्रतिद्वंद्वियों को पटखनी दे रहे हैं। बैडमिंटन मिक्स टीम को सिल्वर मेडल मिलने के बाद अब एकल वर्ग में गोल्ड मेडल की उम्मीदें भी जगने लगी हैं। उत्तराखंड के होनहार खिलाड़ी लक्ष्य सेन के साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दबदबा रखने वाली शटलर पीवी सिंधु ने भी इस उम्मीद को और पंख लगाए हैं। आज दोनों ही अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने अपने-अपने प्रतिद्वंद्वियों को पटखनी देते हुए फाइनल में जगह बनाई है। अब देखना होगा कि दोनों में से कौन-कौन भारत की झोली में गोल्ड मेडल डालता है।

कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन के दो होनहार भारतीय खिलाड़ियों ने फाइनल में जगह बना ली है। उम्मीद जताई जा रही है कि यह दोनों ही अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी भारत की झोली में दो और गोल्ड मेडल डाल सकते हैं। बैडमिंटन शटल लक्ष्य सेन और पीवी सिंधु ने एकल वर्ग में सेमीफाइनल मुकाबलों में अपने प्रतिद्वंद्वियों को जबरस्त टक्कर देते हुए फाइनल में जगह बनाई है। इससे पहले भारत की मिक्स टीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल भारत की झोली में डाला है। अब देखना होगा कि फाइनल में लक्ष्य सेन और पीवी सिंधु अपने प्रतिद्वंदी खिलाड़ियों को कैसे टक्कर देंगे।

बता दें कि बर्मिंघम इंग्लैंड में आज सेमीफ़ाइनल में अल्मोड़ा उत्तराखंड के लक्ष्य सेन ने भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए सिंगापुर के खिलाड़ी तेह जिया हेंग को 21-10, 18-21 व 21-16 से हराकर फ़ाइनल में स्थान बना लिया है । फ़ाइनल में लक्ष्य का मुक़ाबला मलेशिया के तेन यूएनजी से होगा जिन्होंने सेमी फ़ाइनल में भारत के किदाम्बी श्रीकांत को हराया है। लक्ष्य के अलावा अभी तक भारत की पीवी सिंधु ने फ़ाइनल में स्थान बनाया है । लक्ष्य सेन व अन्य भारतीय खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन पर उत्तराँचल राज्य बैडमिंटन संघ की अध्यक्ष डॉ अलकनंदा अशोक समेत समस्त उत्तराखंड बैडमिंटन परिवार, खिलाड़ियों और खेल प्रेमियों ने लक्ष्य सेन को फाइनल मुकाबले के लिए शुभकामनायें दी हैं।