दर्दनाक हादसाः संजय सेतु की रेलिंग तोड़ते हुए नदी में समाई बस, 40 यात्री थे सवार; 11 शव निकाले

0
240

इंदौर, ब्यूरो। आज सुबह करीब पौने दस बजे मध्य प्रदेश के धार और खरगोन जिले की सीमा पर संजय सेतु से 40 यात्रियों से भरी महाराष्ट्र परिवहन की बस नर्मदा नदी में समा गई। जानकारी के अनुसार बस इंदौर से पुणे की तरफ जा रही थी। नर्मदा नदी से अभी तक 11 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। मौके पर अभी भी रेस्क्यू आॅपरेशन जारी है। महिलाओं और बच्चों समेत 40 यात्री सवार थे। अब तक 11 शव निकाले जा चुके हैं। धामनोद के खलघाट में बस टू-लेन संजय सेतु पुल की रेलिंग तोड़ते हुए नर्मदा में गिरी।

bus acccident 3

जिस टू लेन पुल से यह बस नर्मदा नदी में समाई वह काफी पुराना बताया जा रहा है। बस महाराष्ट्र राज्य परिवहन की है। पुल से ओवरटेक करने में अनियंत्रित होकर गिर गई। हादसे की जानकारी लगते ही खलघाट सहित आसपास के लोग मौके पर पहुंच गए हैं। इंदौर और धार से की टीम मौके पर पहुंच चुकी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने घटना को संज्ञान में लेते हुए प्रशासन को बचाव और राहत कार्य के आदेश दिए हैं।

bus acccident 1

बता दें कि धार और खरगोन जिले की सीमा से एक बड़ी खबर सामने आई है। यहां हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। दरअसल, यहां नर्मदा नदी पर एक बस के दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जानकारी के अनुसार बस इंदौर से महाराष्ट्र जा रही थी। यह बस 40 सवारियों से भरी थी। यहां आए दिन वाहन हादसों का शिकार हो रहे हैं। बड़े हादसे की सुचना मिली है। संभागायुक्त डॉक्टर पवन कुमार शर्मा ने दोनों जिलों के कलेक्टर्स को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। बस पूरी तरह से पानी में डूब गई है। वहीं जानकारी मिली है कि अब तक 5 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। बस में 25 से 30 सवारी बैठी थी।

हालांकि यह भी सुचना मिली है कि खलघाट में 10 मिनट का ब्रेक लेने के बाद सुबह पौने 10 बजे बस नर्मदा में गिरी। रॉन्ग साइड से आ रहे वाहन को बचाने से यह बड़ा हादसा हो गया। घटना के बाद घाट पर मौजूद लोग और नदी में चल रहे नाविक तुरंत बस के पास पहुंचे और यात्रियों को बाहर निकालने की कोशिश करने लगे। बचाव कार्य में मार्गदर्शन के लिए संभाग आयुक्त पवन कुमार शर्मा भी खलघाट पहुंच रहे हैं। बस भी नदी से बाहर निकाल ली गई है। जिसमे 8 लोगो की मौत की पुष्टि की गई है। जानकारी के लिए बता दें नदी से बॉडी बाहर निकाली गई है। यह रोड इंदौर से महाराष्ट्र को जोड़ता है। घटनास्थल इंदौर से 80 किलोमीटर दूर है। जिस संजय सेतु से बस गिरी, वो दो जिलो धार और खरगोन की सीमा पर बना है। आधा हिस्सा खलघाट (धार) और आधा हिस्सा खलटाका (खरगोन) में है। खरगोन से भी कलेक्टर और एसपी मौके पर पहुंचे हैं।

bus acccident 5