Meera Singhania Rehani: वो लड़की जिसे खुद के घरवालों द्वारा भी किया गया प्रताड़ित।

0
434

देहरादून ब्यूरो। वो लड़की जो बजपन से लड़की नही थी लेकिन इसके अंदर भावनाएं लड़कियों वाली थी। इसके पिता ने अपना गुस्सा निकालने के लिए इसे बचपन में छक्का कहा। अपनी Feminity को लेकर स्कूल और क्लास में इनके साथ बहुत कुछ होता था। इन्हें Bully किया जाता था। छक्का कहा जाता था। यहां तक की जब ये 7th class में थीं तब एक लड़के ने इनके साथ जबरदस्ती तक की। वो भी सिर्फ ये चेक करने के लिए कि इसकी हरकतें ही सिर्फ लड़कियों जैसी हैं या फिर शरीर भी है। कॉलेज में जाने से पहले तक ये इस तरह की कई सारी प्रताड़नाओं का सामना कर चुकीं थीं। जिनकी हम बात कर रहे हैं वो हैं 23 साल की Meera Singhania Rehani.

कोलकता में जन्मीं Meera Singhania Rehani पैदा तो लड़के के रूप में हुई थी मगर वो अंदर से एक लड़का नही थी। उनके अंदर एक लड़की की भावनाएं थी और काफी समय तक वो ये नही समझ पाईं कि वो सिर्फ पैदा हुईं हैं लड़के के रूप में असल में वो एक लड़की हैं। Meera Singhania Rehani बताती हैं कि उन्होंने कई बार अपने आप को झंझोड़ा है कोसा है कि क्यों वो ऐसी हैं क्यों उनके अंदर लड़कों जैसी फीलिंग्स नहीं हैं। 18 साल तक Meera Singhania Rehani ने अपना जीवन एक नरक के तौर पर काटा है। अबतक वो अपनी Sexuality को लेकर काफी Confuse थीं मगर अपनी लाइफ के 18 साल काटने के बाद उन्हें एहसास हुआ कि वो एक लड़की हैं। अब तक वो एक झूठी जिंदगी बिता रहीं थी।

12th करने के बाद Meera Singhania Rehani BBA करने के लिए Bangalore गईं। जहां जाकर उन्हें अपनी Sexuality को लेकर थोड़ा सा confidence आया और यहां पर उनका एक बॉयफ्रेड बना। Meera Singhania Rehani को अपनी Sexuality को लेकर थोड़ा confidence तो आ रहा था मगर वो अभी भी अपने अंदर की असल फीलिंग को दबाने की कोशिश कर रही थी। क्योंकि Bangalore में भी कहीं न कहीं उनको Bully किया जा रहा था जिसके बाद Meera Singhania Rehani ने bangalore को छोड़ने का मन बना लिया। अब वो BBA   नही करना चाहतीं थी। उन्होंने अपना BBA Drop किया और उसके बाद वो दिल्ली चली आईं। यहां पर उन्होंने Ambedkar University में admission लिया और Sociology में BA Hons. किया। BA Hons. करने के दौरान Meera Singhania Rehani के दोस्त बने जो सिर्फ दोस्त ही नही थे बल्की अबतक तक के उनके सबसे बड़े Support system थे। Meera Singhania Rehani के इन दोस्तों ने उन्हें समझा और वो जैसीं हैं उन्हें वैसे ही Accept किया। उनके दोस्तों ने उनकी Feminity को लेकर उन्हें कभी जज नहीं किया यहां तक की उन्हें इतना Comfortable फील कराया कि Meera अपनी Feminity को Enjoy करने लगीं। अब Meera धीरे धीरे लड़कियों की तरह सजने लगीं थी। कभी वो eyeliners लगाती, कभी piercing करवाती कभी tattoos बनवातीं तो कभी कुर्ती और स्कर्ट्स पहनकर बाहर घूमने जातीं। ऐसा करने में Meera को अब अच्छा लगने लगा था। अब उन्हें अपने दोस्तों के support से Uncomfortable feel नही हो रहा था। और यही वो वक्त था जब उन्हें realize हुआ कि असल में वो एक लड़का नही बल्की लड़के के शरीर में एक लड़की हैं। अब समाज के सभी ताने उन्हें फिरसे याद आ रहे थे और जो ताने पड़ भी रहे थे वो तो थे ही। उन्होंने समाज के इन तानों को अपनी शक्ति बनाई और एक नई जिन्दगी की ओर अपना पहला कदम बढ़ाया। जो था tRanswomen बनने का Decision लेना। सबसे पहले Meera Singhania Rehani ने अपने चहरे का laser treatment कराया जिसके बाद उनकी दाड़ी चली गई। फिर उन्होंने अपने घरवालों को समझाया कि वो एक औरत हैं तो उन्हें अपने शरीर में बदलाव करने की जरूरत है। एक joint family होने के कराण ये काफी मुश्किल था परिवार वालों को समझाना कि उनके घर का बेटा बेटी बनने जा रहा है खूब झगड़े हुए। मगर काफी मुश्किलों के बाद इन्होंने legally अपना नाम और gender change किया और बन गईं Meera Singhania Rehani। इस दौरान Meera ने कोर्ट कचैरी पुलिस और district magistrate इन सब ऑफिसिस में जाकर ये सब काम करवाया। इसके बाद Meera ने Hormone Replacement Therapy कराई और फिर 25 जून 2020 को Meera ने एक औरत बनने के लिए Surgery   कराई। मीरा बताती हैं कि अबतक तो सिर्फ लोगों के ताने गालियां सुनने को मिलते थे लेकिन जो surgery meera ने कराई थी उसका पेंन और उस surgery से recover करना एक अलग ही trauma था। इनकी बॉडी में इतने ज्यादा stitches थे कि वो अपने बिस्तर से उठ भी नही पाती थीं। और इसी दौरान उनकी लाइफ में एक ऐसा इन्सीडेंट हुआ जिसने उनकी जिन्दगी ही बदल डाली। ये इन्सीडेंट था जब उनके Instagram पर एक मेसेज आता है। ये मेसेज था Bhima jewellery की तरफ से एक Ad shoot का। जिसके बाद Meera ने इस Ad film के लिए audition दिया और वो select हो गईं। इस 1 मिनट 40 सेकेंड के ad में एक दाढ़ी-मूंछ वाले लड़के के खूबसूरत दुल्हन बनने तक को सफर को दिखाया गया है। जिसमें उसके जीवन के प्रत्येक मील के पत्थर को परिवार द्वारा उपहार में दिए गए सोने के आभूषणों के माध्यम से दिखाया गया है। ये Ad इतना ज्यादा emotional था कि इसे लोगों ने खूब पसंद किया जिसके बाद Meera Singhania Rehani बनी The famous Transgender Model Meera Singhania Rehani.

Meera Singhania Rehani बताती हैं कि इस ad के लिए वो Goa गईं थी जिसकी shooting में 2-3 दिन लगे थे। ये 2-3 दिन उनकी लाइफ के सबसे हसीन पल थे क्योंकि इस ad film की टीम ने उन्हें किसी princess से कम महसूस नही होने दिया। और इस Ad के बाद तो Meera Singhania Rehani को पूरे देश में जाना जाने लगा।

तो ये थी कहानी एक लड़के से Meera Singhania Rehani बनने तक की जिसमें 18 साल के hardcore struggle के बाद था एक हसीन पल जिसको जीने में Meera Singhania Rehani को मज़ा आ रहा था।