महिला कांग्रेस ने घेरा सहकारिता मंत्री धन सिंह का आवास, प्रदर्शन

0
165

सहकारिता विभाग में हुई नियुक्तियों में धांधली की निष्पक्ष जांच की मांग उठाई

देहरादून, ब्यूरो। आज बुधवार को उत्तराखंड महिला कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं ने सहकारिता और स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत के आवास के बाहर जमकर हंगामा काटा और प्रदर्शन भी किया। इस दौरान भारी संख्या में एकत्रित हुई महिलाओं ने गेट खोलकर मंत्री के आवास के अंदर जाने की कोशिश की, लेकिन पुलिस बल ने उन्हें रोक दिया। महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सरकार पर बरसते हुए धांधली में हिस्सेदार होने का आरोप लगाते हुए मामले की निष्पक्ष जांच की भी मांग की है।

congress protest

बता दें कि बुधवार शाम को कांग्रेस महिला कार्यकर्ताओं ने सहकारिता बैंक भर्ती घोटाले को लेकर कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत के यमुना कालोनी स्थित निवास का घेराव किया। मंत्री के खिलाफ नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए उन्होंने गेट तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश। मामला बढ़ता देख मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं से ज्ञापन लिया। बता दें कि सहकारिता विभाग की ओर से जिला सहकारी बैंकों में चतुर्थ श्रेणी कर्मियों की भर्ती में अनियमितता पाये जाने और जांच शुरू होने के बाद पहली गाज चार जिलों के जिला सहायक निबंधक (एआर) और चार महाप्रबंधकों (जीएम) पर गिरी है। चारों एआर और तीन महाप्रबंधकों का तबादला कर दिया गया है। जांच प्रभावित न हो इसीलिए शासन ने अन अफसरों को हटाया है। सहकारिता सचिव मीनाक्षी संदरम की ओर से आदेश के अनुसार जिला सहकारी बैंक देहरादून, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा और ऊधमसिंहनगर में चतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्ती घोटाले के संबंध में शासन की ओर से नियुक्त कमेटी जांच कर रही है। इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदयाल के नेतृत्व में भी कांग्रेस भर्ती घोटाले के विरोध में प्रदर्शन कर चुकी है।

दूसरी ओर सहकारिता विभाग की ओर से जिला सहकारी बैंकों में चतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्तियों में घोटाले के आरोप के बीच डीबीसी के निदेशकों ने सामने आकर कांग्रेस के विरोध को राजनीति से प्रेरित बताया था। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस कार्यकाल में सहकारी बैंकों में बड़े पैमाने पर कई पदों पर बैकडोर से भर्तियां की गईं, उसकी भी जांच होनी चाहिए।