IFS किशनचंद, ठेकेदार के साथ ही इन कार्मिकों पर विजिलेंस ने दर्ज किए ये मुकदमे

0
176

देहरादून, ब्यूरो। आय से 5 गुना ज्यादा संपत्ति को लेकर चर्चाओं में रहे उत्तराखंड के भ्रष्ट आईएफएस किशनचंद के खिलाफ विजिलेंस ने हल्द्वानी में मुकदमा दर्ज किया है। विजिलेंस अफसरों से मिली जानकारी के अनुसार कार्बेट नेशनल पार्क के कालागढ़ रेंज में निर्माण कार्यों और योजनाओं में हुई अनियमितताओं को देखते हुए यह कार्रवाई की गई है। इससे पहले आय से अधिक प्रॉपर्टी मामले में कार्रवाई करते हुए किशन चंद को निलंबित कर चुकी है।

उत्तराखंड शासन से अनुमति मिलने के बाद विजिलेंस ने हल्द्वानी क्षेत्र में दर्ज करवाए केस

तत्कालीन कालागढ़ रेंज के उपनिदेशक किशन चंद के साथ ही अन्य विभागीय कर्मचारियों और ठेकेदार के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 420, 467, 468 के साथ ही वन संरक्षण अधिनियम 1980 और वन संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में अग्रिम कार्रवाई जारी है। उत्तराखंड शासन से अनुमति मिलने के बाद विजिलेंस ने आईएफएस किशन चंद समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है। अब देखना होगा कि विजिलेंस कब तक इन आरोपियों के खिलाफ कारवाई करने के साथ ही इन्हें सलाखों के पीछे डालती है।

बता दें कि आईएफएस किशनचंद जहां-जहां भी तैनात रहे, उनके घपले-घाटाले चर्चाओं में रहे हैं। उत्तराखंड शासन से अनुमति मिलने के बाद अब जल्द किशनचंद पर कार्रवाई की आज जगी है। पहले के कई मामलों में किशनचंद कोर्ट से स्टे लेकर अक्सर बरी होते रहे हैं। हालांकि कई मामले अभी भी विचाराधीन हैं। दूसरी ओर विजिलेंस की कार्रवाई के बाद किशनचंद और उनके मातहत कर्मी और ठेकेदारों पर कब और क्या कार्रवाई होगी यह आने वाला वक्त ही बताएगा।