बुलडोजर बाबा के नक्शे कदम पर चल पाएंगे धाकड़ धामी?

0
352
uttarakhand news
uttarakhand news

हनुमान जयंती शोभायात्रा पर पथराव करने वाले चार दिन बाद भी फरार, पथराव और आगजनी करने वाले नहीं हुए अरेस्ट, एसडीएम दफ्तर पर हनुमान चालीसा पाठ

देहरादून/हरिद्वार, ब्यूरो। हरिद्वार के भगवानपुर थाना क्षेत्र में एक गांव में हनुमान जयंती की शोभायात्रा पर पथराव और आगजनी के बाद करीब चार दिनों से बवाल जारी है। दो दिन पहले उत्तराखंड की पुलिस यूपी पुलिस की तर्ज पर बुलडोजर लेकर आरोपियों के घर तक भी गई थी। चेतावनी भी दी गई कि अगर देर शाम तक आरोपी सरंडर नहीं करेंगे तो उनके घर ढहा दिए जाएंगे। अब सवाल यह उठता है कि आखिर बुलडोजर बाबा के नाम से प्रसिद्ध हो चुके यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के नक्शे कदम पर उत्तराखंड के सीएम धाकड़ धामी और उनकी पुलिस चल पाएगी? यह तो एक मामूली बवाल है, लेकिन कई ऐसे अपराधी भी प्रदेश में धड़ल्ले से पेरोल से लेकर नियमों को तोड़-मरोड़ कर जमानत पर मौज कर रहे हैं। कई मामलों में अपराधी फरार हैं, उनके घरों पर भी कभी यूपी की तर्ज पर बुलडोजर चलेगा?

devbhoomi

बता दें कि विगत शनिवार को हनुमान जयंती के मौके पर निकल रही शोभायात्रा पर धर्म विशेष के लोगों ने पथराव के साथ गाड़ियों में आग लगा दी थी। इसके बाद जमकर बवाल हुआ था। इस बवाल के दौरान इलाके का एक पुलिस अफसर भी घायल हो गया था। मामला धर्म विशेष से जुड़ा होने के कारण पुलिस भी हरकत में आ गई थी। पुलिस ने आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए कई बार गांव में दबिश दी, लेकिन आरोपी पकड़ से बाहर हैं। हालांकि भगवानपुर पुलिस यूपी पुलिस की तर्ज पर बुलडोजर लेकर भी आरोपियों के गांव तक पहुंची थी, लेकिन दो दिन बाद भी न तो आरोपियों के घर टूटे न उनकी गिरफ्तारी ही हुई है। हालांकि भगवानपुर के डाडा जलालपुर गांव में हुए पथराव के आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर आज बुधवार को उप जिलाधिकारी कार्यालय पर हनुमान चालीसा पाठ किया। इससे पहले शिव मंदिर में काली सेना के राज्य संयोजक स्वामी दिनेशानंद भारती ने लोगों के साथ बैठक ली। इसके बाद पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत डाडा जलालपुर गांव से भगवानपुर टोल प्लाजा पर पहुंच कर विधायक ममता राकेश का पुतला भी जलाया। इसके बाद लोग उप जिलाधिकारी कार्यालय पर हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए गांव से रवाना हुए। पुलिस ने इन्हें रोकने का प्रयास किया, लेकिन इनका काफिला नहीं रुका। दरअसल, हिंदू संगठनों की ओर से पुलिस को चेतावनी दी गई थी कि यदि शाम तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो थाने पर धरना और हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा।

devbhoomi