मानसून की दस्तक से ही दरके पहाड़, 40 सड़कें बंद; जान ले रहा मलबा और विशालकाय बोल्डर

0
32

देहरादून/चमोली, ब्यूरो। उत्तराखंड में मानसून की दस्तक से पहाड़ जगह-जगह से दरक रहे हैं। एक दिन पहले से ही शुरू हुई मानसून की बारिश से जगह-जगह हालात भयावह हो रहे हैं। एक दिन पहले ही गौरीकुंड और मनकुटिया के बीच यात्रियों को केदारनाथ ले जा रहे एक वाहन पर पहाड़ी से मलबा गिर गया जिससे एक महिला की मौत हो गई जबकि दस लोग घायल हो गए। इसके आलावा आज सुबह ही चमोली के गोपेश्वर में कलक्ट्रेट जाने वाले बाईपास रोड पर एक भारी-भरकम बोल्डर पहाड़ से सड़क पर आ गिरा। हालांकि कुछ समय बाद पुलिस और प्रशासन ने बोल्डर को हटा दिया था। गनीमत यह रही कि इस दौरान वहां से कोई वाहन या व्यक्ति नहीं गुजर रहा था। गढ़वाल के साथ ही कुमाऊं मण्डल की करीब 40 सड़कें जगह जगह से मलबा और पत्थर आने से बंद पड़ी हैं। हालांकि प्रशासन और संबधित विभाग मार्ग खुलवाने में जूटे हैं।

मानसून की दस्तक से ही दरके पहाड़, 40 सड़कें बंद; जान ले रहा मलबा और विशालकाय बोल्डर

WhatsApp Image 2022 06 30 at 11.28.40 AM

उत्तराखंड में हर साल बरसात में हालात भयावह हो जाते हैं। सड़कों को विस्तार देने के साथ ही रेलवे लाइन के काम से किए जा रहे विस्फोट हों या फिर यहां की नदियों किनारे बनाए गए छोटे-बड़े हाइड्रो प्रोजेक्ट। कहीं न कहीं इनके विस्फोटों के कारण पहाड़ लगातार खोलने होते जा रहे हैं। एक दिन पहले केदारनाथ यात्रियों को लेकर लौट रहे वाहन पर पहाड़ी से पत्थर और मलबा गिर गया। इसमें एक महिला यात्री की मौत हो गई जबकि 10 यात्री घायल हुए हैं। यह दुःखद हादसा केदारनाथ हाईवे पर मुनकटिया के पास हुआ। भारी बारिश के बीच सोनप्रयाग से गौरीकुंड की ओर आ रहे यात्री वाहन पर पहाड़ी से मलबा और पत्थर गिर गये। मलबे में यात्री वाहन के दबे होने की सूचना पर एसडीआरएफ, पुलिस और डीडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू कर 10 लोगों को निकाला। हादसे में अहमदनगर महाराष्ट्र की पुष्पा (62) की मौके पर ही मौत हो गई थी। महिला के शव को वाहन काटकर बाहर निकाला गया था। अचानक बोल्डर और मलबे की चपेट में आए इस वाहन में महाराष्ट्र के अहमदनगर निवासी ज्योति बाला काले, कल्पना काले, राम सालुंके, क्रशाना भाले, पटना (बिहार) निवासी गौतम कुमार, शिव कुमार, अंकित शर्मा, बडासू (रुद्रप्रयाग) निवासी रमेश सिंह, नेपाली नागरिक पलमन और टीकाराम गंभीर रूप से घायल हो गए थे। हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची टीम ने सभी को अस्पाल पहुंचाया। वहीं, आज सुबह ही चमोली के गोपेश्वर में कलक्ट्रेट जाने वाले बाईपास रोड पर एक भारी-भरकम बोल्डर पहाड़ से सड़क पर आ गिरा। हालांकि कुछ समय बाद पुलिस और प्रशासन ने बोल्डर को हटा दिया।

car dabi 1