DM और स्मार्ट सिटी CEO का अतिरिक्त प्रभार मिलते ही Action में अपर सचिव सोनिका

0
99

देहरादून, ब्यूरो। देहरादून जिलाधिकारी की अतिरिक्त जिम्मेदारी मिलने के बाद अपर सचिव सोनिका आज ही एक्शन मोड में दिखी। उन्होंने राजधानी में देहरादून स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण किया और समय पर सभी कार्य गुणवत्ता के साथ पूरे करने के सख्त निर्देश दिए। बता दें कि जिलधिकारी, देहरादून/मुख्य कार्यकारी अधिकारी सोनिका  द्वारा स्मार्ट सिटी लि0 के अन्य अधिकारियों के साथ आज 16 जुलाई को देहरादून स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत क्रियान्वित परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय सभी सम्बन्धित विभागों, कार्यदायी संस्थाओं एवं डी0एस0सी0एल0 तथा पी0एम0सी0, डी0एस0सी0एल0 के अधिकारी उपस्थित रहे।

DM और स्मार्ट सिटी CEO का अतिरिक्त प्रभार मिलते ही Action में अपर सचिव सोनिका

dm and ceo sonika 3

स्थलीय निरीक्षण के दौरान देहरादून स्मार्ट सिटी के अधिकारी द्वारा स्मार्ट टॉयलेट परियोजना के अन्तर्गत बन रहे सभी स्मार्ट टायलेटों का निरीक्षण किया गया एवं कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया गया की सभी स्मार्ट टॉयलेट का कार्य शीघ्र किसी पूर्ण कर लिया जाए। बहल चौक से क्लॉक टावर एव ई0सी0 रोड की ओर स्मार्ट रोड का निरीक्षण किया गया इस दौरान कार्यदायी सस्था कों निर्देशित किया गया की कार्य को शीघ्र पूर्ण करने को श्रमिकों की संख्या बढाकर कार्य किया जाए तथा आम जनमानस को कार्यो के चलते असुविधा का सामना ना करना पडे, इस बात का पूर्ण ध्यान रखा जाए। मुख्य कार्यकारी अधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में सम्बन्धित विभाग द्वारा कार्य में बाधा उत्तपन्न करने वाले इलेक्ट्रिक पोलों, होर्डिंग्स आदि यथाशीघ्र हटा लिया जाए। कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया कि मासिक एवं साप्ताहिक कार्ययोजना बनाकर देहरादून स्मार्ट सिटी को प्रस्तुत की जाए।

dm and ceo sonika 4

परेड ग्राउण्ड का स्थलीय निरीक्षण किया गया जिसमें तथा कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया गया की कार्य को शीघ्र करने हेतु समुचित श्रमिकों की संख्या के साथ कार्य किया जाए साथ ही निर्देशित किया गया कि पार्किग में टाइल्स आदि लगाने का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। तिब्बती मार्केट की नाली निर्माण का कार्य के बाद फुटपाथ निर्माण का कार्य जनहित में प्राथमिकता के अनुसार पूर्ण किया जाए। यह भी निर्देशित किया गया की कार्यहित में अपने संसाधानों में वृद्धि की जाए जैसे निर्माण सामग्री, मजदूर, मशीन एवं निमार्ण सामग्री स्टोर आदि तथा मासिक एवं साप्ताहित कार्ययोजना बनाकर देहरादून स्मार्ट सिटी को प्रस्तुत की जाए।