हल्द्वानी (पंकज अग्रवाल): शहर में आज उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक युवक ने स्वयं ब्लेड द्वारा अपने हाथों से अपनी ही गर्दन को काट दिया। जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक काफी मात्रा में उसका खून निकल चुका था और वह सड़क पर गिर पड़ा। इस दिल दहला देने वाली घटना से आसपास के इलाकों में हड़कंप मच गया।

इसके बाद फौरन आस-पास के लोगों ने आनन-फानन में पुलिस को फोन किया। फिर पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर घायल को बेस अस्पताल पहुचाया, लेकिन युवक की बेहद नाजुक हालत को देखते हुए उसे सुशीला तिवारी अस्पताल रेफर कर दिया गया। खबर लिखे जाने तक मिल रही जानकारी के अनुसार एसटीएच की माइनर इमरजेंसी में उसका उपचार चल रहा है। युवक की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। घटना बनभूलपुरा में जीनत टेंट हाउस के निकट घटित हुई है। बताया जा रहा है युवक मानसिक रूप से भी अस्वस्थ है। उसका बेस अस्पताल के मनोरोगी विभाग में इलाज चल रहा था। जानकारी के अनुसार युवक मोहम्मद रिजवान पुत्र मोहम्मद उमर निवासी बादली टांडा निकट नगर पालिका जिला रामपुर का रहने वाला है। उसकी ससुराल ताज मस्जिद के पास बताई जा रही है।

बादली टांडा निकट नगर पालिका जिला रामपुर निवासी रिजवान पुत्र मोहम्मद उमर पिछले कुछ दिनों से अपने परिवार के साथ अपनी ससुराल मलिक का बगीचा इंदिरानगर ने आया हुआ था। पार्षद महबूब आलम ने बताया कि रिजवान ने आज सुबह उनके निवास स्थान लाइन न0 16 के पास की परचून की दुकान से एक ब्लेड खरीदा, जिसके पैसे भी रिजवान ने दुकान स्वामी को नही दिए। जिसके बाद रिजवान ने थोड़ी सी दूर जाकर अपने गले की नस को काट दिया और सड़क पर गिर पड़ा। यह देख आस-पास खड़े लोगों ने रिजवान को इलाज के लिए बेस चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। यहां चिकित्सकों ने रिजवान की हालत गंभीर देखते हुए सुशीला तिवारी चिकित्सालय रेफर कर दिया। रिजवान की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।