शादी की खुशी बदली मातम में, पौड़ी बस हादसे में 25 बारातियों की मौत, रेस्क्यू जारी, सीएम पहुंचे घटनास्थल पर

0
271
Uttarakhand Bus Accident

Uttarakhand News: Uttarakhand Bus Accident: पौड़ी जिले के धुमाकोट क्षेत्र के एक गांव में शादी की खुशी तब मातम में बदल गई जब बारातियों की बस गहरी खाई में गिर गई। इस हादसे में अब तक 25 लोगों की मरने की सूचना है जबकि 21 घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि इस बस में 45 के लगभग बाराती सवार थे।

Uttarakhand Bus Accident: 350 मीटर गहरी खाई में गिरी बस

Uttarakhand Bus Accident

हरिद्वार लालढांग से बारातियों के एक बस मंगलवार को घुमाकोट के कांडा मल्ला गांव के लिए निकली थी। लेकिन जैसे ही यह बस बीरोंखाल- कोटद्वार मोटर मार्ग पर सिमड़ी गांव के पास पहुंचती तो बस अचानक अनियंत्रित होकर लगभग 350 मीटर गहरी खाई में जा गिरी (Uttarakhand Bus Accident)। स्थानीय लोगों ने इस हादसे की सूचना तत्काल स्थानीय राजस्व पुलिस को दी। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने ही वहां रेस्क्यू कार्य शुरू कर दिया। लेकिन बाद में वहां विभिन्न क्षेत्रों ने एसडीआरएफ और पुलिस की टीम पहुंच गई और उन्होंने वहां रेस्क्यू कार्य शुरू कर दिया। रातभर यहां रेस्क्यू कार्य चलता रहा।

Uttarakhand Bus Accident: हादसे में 25 की मौत और 21 घायल

Uttarakhand Bus Accident
Uttarakhand Bus Accident

Uttarakhand Bus Accident बीरोंखाल, सिमड़ी गांव के पास हुए इस हादसे में बताया जा रहा है कि 25 लोगों की मौत हो गई है। उत्तराखंड पुलिस ने इन 25 लोगों की मौत की पुष्टि की है। साथ ही पुलिस के अनुसार इसमें 21 लोग घायल हुए हैं. जिन्हें बीरोंखाल अस्पताल में भर्ती किया गया है। बताया जा रहा है कि इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

सीएम धामी रात को पहुंचे सचिवालय तो सुबह घटनास्थल पर

Uttarakhand Bus Accident
Uttarakhand Bus Accident

पौड़ी जिले के बीरोंखाल में हुए इस बस हादसे (Uttarakhand Bus Accident) की सूचना जैसे ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को मिली उन्होंने अपने सारे काम छोड़कर सचिवालय पहुंच गए और वहां आपदा प्रबंधन केंद्र में पहुंच गये। वहीं से सीएम से घटना को लेकर जरूरी दिशा निर्देश दिए। उनके निर्देश पर गढ़वाल और कुमाऊं की एसडीआरएफ टीम मौके पर पहुंच गई और रात भर वहां रेस्क्यू चलता रहा। सुबह होते ही मुख्यमंत्री पुष्कर धामी घटनास्थल पहुंच गए और वहां वे घटना और राहत बचाव कार्यों की जानकारी ले रहे हैं।

ये भी पढ़ें…

केदार भंडारी के पिता ने लगाया पुलिस पर लीपापोती करने का गंभीर आरोप