सामूहिक शादी के मंडप से पानी पीने निकला दूल्हा लापता, तलाश में जुटा समाज कल्याण विभाग

0
300

लखनऊ, ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के कन्नौज में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत हो रही शादी में 144 जोड़ों का विवाह किया जा रहा था। एक दिन पहले आयोजित हुए इस कार्यक्रम में एक दूल्हा पानी पीने के बहाने शादी के मंडप से आया और कहीं भाग गया। थोड़ी देर बाद दुल्हा न पहुंचने पर मौके पर ढूंढ-खोज शुरू हो गई। समाज कल्याण विभाग के अफसरों ने दूल्हे को काफी तलाशा लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया। दूल्हन के घर वालों का आरोप है कि दूल्हा दहेज में बुलेट की मांग कर रहा था। दूल्हन की मां की शिकायत पर समाज कल्याण विभाग दूल्हा बने युवक की तलाश में जुटा हुआ है।

बता दें कि कन्नौज शहर के निकट ग्राम शरीफापुर में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में चयनित 144 जोड़ों का विवाह सम्पन्न करवाया जा रहा था। इस सामूहिक विवाह समारोह में उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह भी शरीक हुए थे। सामूहिक विवाह की रस्म शुरू हो ही रही थी कि उसी दौरान एक मंडप से दूल्हा पानी पीने की बात कहकर निकला और लौटकर नहीं आया। वहीं, काफी देर तक दुल्हन मंडप में ही बैठी रही। बहुत देर बाद भी दूल्हा नहीं लौटा तो परिजन उसकी खोजबीन की। इसके बाद मौके पर खोजबीन में न तो दूल्हा मिला और न ही उसके घर वाले और अन्य रिश्तेदार।

जानकारी के अनुसार यूपी के कन्नौज इलाके के गुगरापुर ब्लाक के एक गांव निवासी युवती की मां ने बताया कि उन्होंने बेटी की शादी मैनपुरी जिले के एक गांव के युवक से तय की थी। उन्होंने बताया कि दूल्हा दहेज में बुलेट की मांग कर रहा था। जब उन्होंने गरीबी का हवाला देकर असमर्थता प्रकट की तो वह मंडप से पानी पीने के बहाने भाग गया। लड़की की मां और ताऊ ने समाज कल्याण अधिकारी अंजनी कुमार सिंह से शिकायत की है। जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि युवक की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसके घर वालों से भी सम्पर्क किया जाएगा। अब देखना होगा कि सामूहिक शादी के मंडप से भागे इस दूल्हे को समाज कल्याण विभाग ढूंढ कर शादी के लिए राजी करवा पाएगा या नहीं।