उत्तराखंड में डेंगू के साथ-साथ अब Scrub Typhus की दस्तक!

Scrub Typhus
Scrub Typhus

Uttarakhand Devbhoomi Desk: देशभर में कोरोना महामारी का प्रभाव अब काफी कम हो गया है लेकिन डेंगू जैसे जानलेवा बिमारियों ने लोगो की नाक में दम कर कर रखा है। बदलते मौसम के साथ-साथ डेंगू और अन्य वायरल बिमारियों से पीड़ितो की संख्या भी बढ़ती जा रही है।

इसी तरह उत्तराखंड में भी डेंगू मरीजों का आंकड़ा एक हजार के पार हो गया है। अस्पतालों में इस बिमारी से पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे में अब एक और नई जानलेवा बिमारी ने दस्तक दे दी है। आपको बता दें कि हरिद्वार जिले में डेंगू के साथ अब स्क्रब टाइफस (Scrub Typhus) के मामले भी सामने आने लगे हैं। जिला अस्पताल में अब तक स्क्रब टाइफस के 6 मरीजो की पुष्टी की गई है। इनमे से 3 मरीजो का अभी जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है जबकि बाकि तीन मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है।

यह भी पढ़े:
Uttarakhand
Uttarakhand: पौड़ी में दर्दनाक हादसा- कार खाई में गिरने से 1 व्यक्ति की मौत

हरिद्वार जिले में अभी डेंगू के मरीजों की संख्या कम नहीं हुई थी कि स्क्रब टाइफस (Scrub Typhus) के मामले भी सामने आने लगे हैं। जिला अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. चंदन मिश्रा ने बताया कि अस्पताल में स्क्रब टाइफस के 6 मरीज भर्ती हुए थे। तीन मरीजों की तबीयत में सुधार होने के बाद उनको छुट्टी दे दी गयी जबकि तीन मरीज अभी भी अस्पताल में भर्ती हैं।

यह भी पढ़े:
indore
अस्पताल के टॉयलेट में मरीज के साथ कर्मचारी ने किया अप्राकृतिक सेक्स, आरोपी गिरफ्तार

Scrub Typhus: कैसे फैलती है ये बीमारी

चिकित्सकों के मुताबिक, स्क्रब टाइफस (Scrub Typhus) एक विशेष बैक्टीरिया के फैलने के कारण होती है। मच्छर जैसे दिखने वाला ये कीट आमतौर पर झाड़ीदार या नमी वाले इलाकों में पाया जाता है। यह बीमारी हार्ट, लीवर, फेफड़े, दिमाग को नुकसान पहुँचाती है। स्क्रब टाइफस की चपेट में आए व्यक्ति को सीधे 104 डिग्री सेल्सियस तक बुखार जा पहुँचता है। फिर लंबे समय तक बुखार बना रहता है।

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com