एस राजू ने UKSSSC के अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, अब उठने लगे हैं कई सवाल

S Raju, Additional Chief Secretary, Government of Uttarakhand

देहरादून- बड़ी खबर देहरादून से आ रही है। यहां उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। प्रेस वार्ता कर उन्होंने इस की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने यूकेएसएसएससी में हुए भर्ती घोटाले को लेकर चिंता व्यक्त की और अध्यक्ष होने के नाते पूरे मामले की नैतिक जिम्मेदारी ली है।

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष एस राजू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में भर्ती प्रक्रिया में हुई धांधली को लेकर उन्होंने इसकी नैतिक जिम्मेदारी ली है और उसके बाद पद से इस्तीफा दिया है। एस राजू 2016 में अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष पद पर तैनात हुए थे और तब से वे लगातार इस पद पर बने हुए थे। उत्तराखंड में ऐसा पहली बार देखा जा रहा है कि किसी धांधली में किसी अधिकारी ने पद से इस्तीफा दिया हो। उन्होंने कहा कि पिछले महीने और इस बार भी आयोग की भर्ती परीक्षाओं पर सवाल खड़े हो रहे हैं इसलिए वे अपने पद से त्यागपत्र देते हैं। एस राजू ने कहा कि उनके कार्यकाल में 88 भर्ती परीक्षाएं आयोजित हुई हैं, इनमें दो परीक्षाओं में धांधली सामने आई है। पहली फॉरेस्ट भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी सामने आई थी तब आयोग ने संंज्ञान लेते हुए इसकी जांच करवाई थी। अब स्नातक स्तर की परीक्षा में धांधली सामने आई है, इसको लेकर भी आयोग ने सरकार के समक्ष इसे लाया था और सरकार ने इस पर जांच बिठाई है। लोग अब आयोग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर रहे हैं जो गलत हैं। आप को बता दें कि यूकेएसएसएससी में हुई स्नातक स्तर की भर्ती परीक्षा में बड़े स्तर पर धांधली सामने आई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के बाद एसटीएफ इस पूरे मामले की जांच कर रहा है। इस पूरे मामले में अब तक 13 लोग गिरफ्तार किये गये हैं। लेकिन अब यह भी सामने आ रहा है कि इन धांधलियों में सफेदपोश भी शामिल हैं। उत्तरकाशी के एक जिला पंचायत सदस्य का नाम भी इस मामले में सामने आ रहा है। जिससे यह लग रहा है कि इस भर्ती प्रक्रिया में राजनेता भी शामिल हो सकते हैं।