संगमरमर का वो मंदिर जो टिका है 1500 खंभों पर

0
447
Ranakpur Jain temple
Ranakpur Jain temple

Ranakpur Jain temple: इस अद्भुत नक्काशी को देख रह जाएगें आप भी दंग

Ranakpur Jain temple: भारत में मंदिरों की कोई कमी नहीं है और न ही इन मंदिरों पर आस्था रखने वाले लोगों की कमी है। इन्हीं मंदिरों में से एक मंदिर है राजस्थान के उदयपुर में स्थित जैन मंदिर जो पूरा का पूरा संगमरमर से बना हुआ है।

विश्वस्तर पर इस मंदिर (Ranakpur Jain temple) को अपनी स्थापत्य कला, नक्काशी और खास तौर पर 1500 खंबों पर टिके होने को लेकर जाना जाता है। ये बेहद खूबसूरत मंदिर उदयपुर जिले से करीबन 100 किलोमीटर दूर रणकपुर (Ranakpur Jain temple) में स्थित है। इस मंदिर की सबसे खास बात ये है कि ये कि ये 1500 खंभों पर टिका हुआ है।

इस मंदिर के द्वार अगर आप देखेंगे तो आपको मालूम पड़ेगा कि इन्हें कितने कलात्मक तरीके से बनाया गया है। मंदिर (Ranakpur Jain temple) में प्रवेश करते ही इसके मुख्य गृह में तीर्थकर आदिनाथ की 4 बड़ी बड़ी संगमरमर की मूर्तियां स्थापित है। 15वीं शताब्दी में इस मंदिर का निर्माण राणा कुंभा के शासनकाल के दौरान कराया गया था। यही कारण है कि जिस जगह पर आज ये मंदिर (Ranakpur Jain temple) स्थित है उस जगह का नाम भी रणकपुर पड़ा।

ये भी पढ़ें:
Yamraj Mandir
इस मंदिर में प्रवेश करने से क्यों डरते हैं लोग? वजह जान रह जाएंगे हैरान

इस मंदिर (Ranakpur Jain temple) की सबसे खास बात ये है कि मंदिर में स्थित मुख्य मूर्ती को आप किसी भी खंबे के पास से खड़े होकर देख सकते हैं। वहीं इन खंबों पर तराशी गई बेहद खूबसबरत नक्काशी तो इस मंदिर (Ranakpur Jain temple) में चार चांद लगाती ही है। आपको बता दें कि रणकपुर में स्थित ये जैन मंदिर जैन धर्म के पांच प्रमुख तीर्थस्थलों में से एक है।      

वहीं भविष्य में इस मंदिर (Ranakpur Jain temple) में कोई आंच न आए इसके लिए इस मंदिर के निर्माण कार्य के दौरान इसमें कई तहखाने बनाए गए थे ताकी अगर कभी कोई विचित्र परिस्थिति सामने आ जाए तो मंदिर में मौजूद पवित्र मूर्तियों को यहां सुरक्षित रखा जा सके।

इस मंदिर (Ranakpur Jain temple) में 76 छोटे गुंबदनुमा पवित्र स्थान मौजूद हैं, 4 विशाल पूजन स्थल मौजूद हैं और साथ ही 4 विशाल प्रार्थना कक्ष मौजूद हैं। इस मंदिर को लेकर ऐसी मान्यता है कि यहां जीवन- मृत्यु की 84 योनियों से मुक्ति पाने के लिए मनुष्य को मोक्ष प्राप्त करने की शिक्षा दी जाती है।  

ये भी पढ़ें:
Bhootnath Mandir Kolkata
इस मंदिर में जलाई जाती है चिता की अग्नी से आरती की ज्योत

For latest news of Uttarakhand subscribe devbhominews.com